टीम शिवराज ने कमलनाथ मंत्रिमंडल के सदस्यों को पछाड़ा, जानिए क्या है माजरा
Latest News
bookmarkBOOKMARK

टीम शिवराज ने कमलनाथ मंत्रिमंडल के सदस्यों को पछाड़ा, जानिए क्या है माजरा

By News18 calender  29-Aug-2019

टीम शिवराज ने कमलनाथ मंत्रिमंडल के सदस्यों को पछाड़ा, जानिए क्या है माजरा

कमलनाथ सरकार (kamalnath government)के मंत्री शिवराज (shivraj singh) के मंत्रियों के मुकाबले फिसड्डी साबित हो रहे हैं. बात सोशल मीडिया (social media)की हो रही है. कांग्रेस के नये-नवेले मंत्री अभी सोशल मीडिया पर उतने एक्टिव नहीं हैं जितने शिवराज के मंत्री थे.

सोशल मीडिया आज के दौर में अपनी बात कहने का बेहतर प्लेटफॉर्म है. शायद यही वजह है कि छोटे से लेकर बड़े नेता तक अपनी बात कहने के लिए इस प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करते हैं. चुनाव के दौरान तो इसका बेहतरीन उपयोग नेताओं और दलों ने किया. मध्य प्रदेश के नेता भी सोशल मीडिया में सक्रिय हैं लेकिन जब बात तुलना की आती है तो इसमें बीजेपी नेता ज़्यादा एक्टिव नज़र आते हैं. कमलनाथ मंत्रिमंडल के सदस्य सोशल मीडिया में उतने एक्टिव नहीं हैं जितनी टीम शिवराज थी. आलम ये है कि खुद सीएम कमलानथ की पॉपुलेरिटी सोशल मीडिया पर पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान के मुकाबले काफी कम है.
 
चिदंबरम की जमानत याचिका खारिज करने वाले जज मनी लॉन्ड्रिंग अपीलीय ट्रिब्यूनल के अध्यक्ष नियुक्त

सोशल ऑडिट : कमलनाथ कैबिनेट VS शिवराज कैबिनेट
सीएम कमलनाथ के ट्विटर पर - 3 लाख 10 हजार फॉलोअर्स हैं,जबकि पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान के फॉलोअर्स की संख्या 50 लाख से ज्यादा है.शिवराज सरकार में जनसंपर्क मंत्री नरोत्तम मिश्रा के फॉलोअर्स की संख्या 46 हजार से ज्यादा है लेकिन कमलनाथ सरकार में जनसंपर्क मंत्री पी सी शर्मा के सिर्फ 6 हजार फॉलोअर्स हैं.

हमसे बढ़कर कौन है?
पूर्व गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह के फॉलोअर्स 88 हजार से ज्यादा हैं जबकि कमलनाथ के गृहमंत्री बाला बच्चन को सिर्फ 2600 लोग फॉलो करते हैं.शिवराज के वित्त मंत्री मंत्री जयंत मलैया के 6400 से ज्यादा फॉलोअर्स हैं तो मौजूदा सरकार में वित्त मंत्री तरुण भनोत के महज़ 459 फॉलोअर्स ही हैं.शिवराज सरकार में पीडब्ल्यूडी मंत्री रहे रामपाल सिंह के 9610 फॉलोअर्स हैं.तो मौजूदा सरकार में पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा के 7057 फॉलोअर्स हैं.

पूर्व पीएचई मंत्री कुसुम मेहदेले के 1,719 और मौजूदा सरकार में पीएचई मंत्री सुखदेव पांसे के महज 29 फॉलोअर्स हैं.शिवराज सरकार में महिला एवं बाल विकास मंत्री रहीं अर्चना चिटनिस के 19.5 हजार फॉलोअर्स हैं,जबकि मौजूदा सरकार में महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी को सिर्फ 1,306 लोग फॉलो कर रहे हैं. पूर्व ऊर्जा मंत्री पारस जैन के 13.2 हजार तो मौजूदा सरकार में ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह के 8047 फॉलोअर्स ही हैं.

नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव के 27.3 हजार और मौजूदा सरकार में पंचायत मंत्री कमलेश्वर पटेल के महज 1524 फॉलोअर्स हैं. पूर्व पर्यटन मंत्री सुरेंद्र पटवा के 13.4 हजार और वर्तमान पर्यटन मंत्री सुरेंद्र सिंह बघेल के महज 2328 फॉलोअर्स हैं.

कमलनाथ के 3 दिग्गज
सिर्फ जीतू पटवारी, सचिन यादव औऱ जयवर्धन सिंह ही ऐसे मंत्री हैं जिन्होंने शिवराज के मंत्रियों पीछे छोड़ा है. जीतू पटवारी के 3 लाख 89 हजार और पूर्व खेल मंत्री रहीं यशोधरा राजे सिंधिया के 20.3 हजार फॉलोअर्स हैं. यही स्थिति नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्द्धन सिंह की है. उनके 49 और पूर्व नगरीय प्रशासन मंत्री माया सिंह के महज़ 4369 फॉलोअर्स हैं.पूर्व कृषि मंत्री गौरीशंकर बिसेन के 9464 और मौजूदा कृषि मंत्री सचिन यादव के 13 हजार से ज्यादा फॉलोअर्स हैं.

किसने क्या कहा ?
कांग्रेस (congress)का कहना है हमारे कई नेता सोशल मीडिया (social media)में बहुत एक्टिव हैं.वैसे नेताओं और पार्टी की पॉपुलेरिटी कार्यकर्ताओं की संख्या से तय होती है और ज्योग्राफिकली देखेंगे तो कांग्रेस का संगठन बहुत मजबूत है.
बीजेपी ने कहा कि कमलनाथ सरकार मंत्रिमंडल औसतन शिवराज सरकार के मंत्रिमंडल से ज्यादा युवा हैं. बावजूद इसके इनके मंत्रियों की पॉपुलेरिटी सोशल मीडिया पर कम है. इसकी बड़ी वजह ये है कि न तो सरकार और न उनके मंत्रियों के पास कोई कंटेंट है.

MOLITICS SURVEY

क्या संतोष गंगवार के बयान का असर महाराष्ट्र चुनाव में होगा ?

TOTAL RESPONSES : 2

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know