लालगढ़ बचाने के लिए विधायक अरुप ने झोंकी ताकत, भाजपा पर कर रहे हमले
Latest News
bookmarkBOOKMARK

लालगढ़ बचाने के लिए विधायक अरुप ने झोंकी ताकत, भाजपा पर कर रहे हमले

By Jagran calender  19-Aug-2019

लालगढ़ बचाने के लिए विधायक अरुप ने झोंकी ताकत, भाजपा पर कर रहे हमले

मार्क्सवादी समन्वय समिति (एमसीसी) के विधायक अरुप चटर्जी विधानसभा चुनाव की तैयारी में जोर-शोर से जुट गए हैं। चटर्जी अपने गढ़ निरसा विधानसभा क्षेत्र में साल 2014 के विधानसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी गणेश मिश्र से मिले चुनाैती को भूले नहीं हैं। बमुश्किल हजार मतों के अंतर से अपनी हार बचा पाए थे। तीन माह बाद दिसंबर में विधानसभा चुनाव है। ऐसे में चटर्जी निरसा विधानसभा क्षेत्र में भाजपा पर जमकर हमले कर रहे हैं।
धनबाद जिले के तहत आने वाला निरसा विधानसभा क्षेत्र लालगढ़ के रूप में जाना जाता है। 1990 से निरसा विधानसभा क्षेत्र में लगातार वापंथी पार्टियों की ही जीत हो रही है। अरुप चटर्जी तीसरी बार विधायक हैं। अब चाैथी जीत के लिए मैदान में अभी से कवायद तेज कर दी है। चिरकुंडा स्थित आइसीआइसीआइ बैंक के समीप व एग्यारकुंड पानी टंकी स्थित यंग स्टार क्लब परिसर में रविवार को अलग मासस और युवा मोर्चा का मिलन समारोह हुआ। चिरकुंडा में विधायक अरूप चटर्जी की मौजूदगी में दर्जनों युवकों ने मासस का दामन थामा। विधायक ने माला पहनाकर सबका स्वागत किया। इस मौके पर विधायक ने कहा कि निरसा विधानसभा क्षेत्र का विकास सिर्फ मासस ही कर सकती है। अन्य दल केवल चुनाव के समय दिखाई देते हैैं। करीब 30 युवकों ने विभिन्न दलों को छोड़कर मायुमो का दामन थामा। मौके पर संतु चटर्जी, शांतनु तुरी, रामजी शर्मा, अमन सिंह, मोईज खान, प्रतीक मिश्रा, रविरंजन सिंह, रामजी यादव, प्रभुनाथ पांडेय, अजय सिंह सहित दर्जनों युवक उपस्थित थे।
लालगढ़ बचाने के लिए विधायक अरुप ने झोंकी ताकत, भाजपा पर कर रहे हमले
इधर गलफरबाड़ी की सभा में करीब सौ युवकों ने पार्टी की सदस्यता ली। विधायक ने कहा कि राज्य में भाजपा के शासनकाल में क्षेत्र में एक भी उद्योग नहीं लगा। इसके कारण युवा नौकरी के लिए दर-दर भटक रहे हैं। धर्म और जाति की राजनीति से लोगों को दूर रहने की बात कही। कहा कि मासस जमीन से जुड़ी पार्टी है। गरीब असहाय के सुख-दुख में हमेशा साथ रहती है। मौके पर कुणाल पालित, कर्मवीर शर्मा, मुकद्दर खान, विश्वनाथ बाउरी सहित अन्य उपस्थित थे।

MOLITICS SURVEY

'ओला-ऊबर के कारण ऑटो सेक्टर में मंदी' - क्या निर्मला सीतारमण के इस बयान से आप सहमत है ?

TOTAL RESPONSES : 42

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know