अपने ही मंत्री को चुनाव में हराने की योजना बनाते भाजपा नेताओं का कथित ऑडियो वायरल
Latest News
bookmarkBOOKMARK

अपने ही मंत्री को चुनाव में हराने की योजना बनाते भाजपा नेताओं का कथित ऑडियो वायरल

By Jagran calender  17-Aug-2019

अपने ही मंत्री को चुनाव में हराने की योजना बनाते भाजपा नेताओं का कथित ऑडियो वायरल

चंदनकियारी के विधायक और राज्य के भू-राजस्व मंत्री अमर कुमार बाउरी को भितरघात का सामना करना पड़ सकता है। इस बात की गवाही बोकारो और चंदनकियारी में वायरल एक ऑडियो क्लिप दे रहा है। वायरल ऑडियो क्लिप को भारतीय जनता पार्टी के पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य नारायण साव और भाजपा नेता शिवराम शेखर के बीच हुई बातचीत का हिस्सा बताया जा रहा है।
शिवराम शेखर ने बातचीत की बात स्वीकारते हुए कहा है कि यह क्लिप उन्होंने एक मीडिया वाले को दिया था, जिसे वायरल कर दिया गया। अब मंत्री जी को देखना है कि वे क्या करेंगे। वहीं नारायण साव ने टेप में अपनी आवाज होने से इंकार किया है। उन्होंने कहा कि कुछ लोग उन्हें फंसाने की साजिश कर रहे हैं। ऑडियो टेप में बातचीत बांग्ला में की गई है।
इसमें एक ओर की आवाज को नारायण साव का बताया जा रहा है, जिसमें कहा गया है कि इस बार अमर बाउरी के खिलाफ काम करना है। बातचीत के दौरान शिकायत की गई है कि पांच साल के कार्यकाल में बाउरी ने उनकी एक बात नहीं सुनी और उन्हें तथा उनके लोगों को कोई फायदा नहीं होने दिया। आगे की बातचीत कुछ इस प्रकार है। 
 
दूसरी ओर की आवाज वाले व्यक्ति (जिन्हें शिवराम बताया जा रहा है) : जमशेदपुर में एक काम लिये हैं। गाड़ी-घोड़ा का इंतजाम हो जाएगा?
नारायण साव : कार्यकर्ता दवा के बिना मर रहा है और मंत्री के नजदीकी लोग सर्किट हाउस और रांची में आनंद उठा रहे हैं। इसकी पूरी व्यवस्था मंत्री द्वारा की जा रही है। खैर तीन माह जो करना है कर ले। इसके बाद क्या होगा बताते हैं। खून खौल रहा है। एक साल से बैठा हुआ हूं। अफसर लोग मेरी बात नहीं सुन रहे हैं। हमारा 10 से 15 लाख रुपया फंसा हुआ है। दो चार बार बोला हूं, लेकिन कोई काम नहीं हुआ। अफसर के सामने मेरा कोई वैल्यू ही नहीं रह गया है।
 
शिवराम : हां 
नारायण साव : इससे अच्छा उमाकांत रजक को जिता देंगे। उसके पास न जाएंगे न काम लेंगे। भाजपा के नाम पर कुछ नहीं कर पा रहे हैं। विरोधी भी बढ़ रहे हैं। 
 
शिवराम : हमारे काम का क्या होगा?
नारायण साव: समझ लो काम नहीं होगा। तीन माह इंतजार करो। पैसा डूब जाएगा। इन लोगों की क्या औकात है। 10 रुपये का आदमी है। अनुपम और कृपा की कोई औकात नहीं है। 
 
शिवराम: 10-5 रुपये की बात नहीं है। उतना पैसा कहां से लाएंगे?
नारायण साव : मेरा स्टाइल देखो। या तो काम मैं करूंगा, नहीं तो दो लाख रुपये लूंगा। मेरा स्टाइल सबसे ठीक है। 
 
शिवराम: मेरे लिए बात कीजिए ।
नारायण साव: मेरा प्रेशर बढ़ रहा है। तीन माह इंतजार करो, देखते हैं...।

MOLITICS SURVEY

क्या संतोष गंगवार के बयान का असर महाराष्ट्र चुनाव में होगा ?

हाँ
  50%
नहीं
  50%
पता नहीं
  0%

TOTAL RESPONSES : 2

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know