सोशल मीडिया में कश्मीर पर मजाक खतरनाक : बाबूलाल
Latest News
bookmarkBOOKMARK

सोशल मीडिया में कश्मीर पर मजाक खतरनाक : बाबूलाल

By Prabhatkhabar calender  10-Aug-2019

सोशल मीडिया में कश्मीर पर मजाक खतरनाक : बाबूलाल

 पूर्व सीएम और झाविमो अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने कहा है कि जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटायी गयी है,  जिसका हमने पूर्ण समर्थन किया था़   साथ ही केंद्र सरकार को बधाई दी थी़  जम्मू कश्मीर हमारे देश का अभिन्न अंग था, है और हमेशा रहेगा़.  लेकिन मेरे मन को ठेस तब पहुंची, जब मैंने देखा कि इस गतिविधि के बाद भाजपा के कुछ विधायक और पदाधिकारी विवादित बयान दे रहे हैं.  जम्मू-कश्मीर को लेकर सोशल मीडिया पर लोग मज़ाक बनाने लगे हैं. अब हालत ऐसी है कि चंद लोग ऐसे मजाक और फूहड़पन को खूब तेजी से फैला रहे हैं और  सरकार मूकदर्शक बनकर देख रही है़
सरदार पटेल, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भारत विभाजन : अनकही दास्तान
समाज व कश्मीर की जनभावना के लिए खतरनाक : उन्होंने कहा कि अभद्र विचारों का सोशल मीडिया में आना समाज और कश्मीर की  जनभावना के लिए खतरनाक है़   सरकार इस विषय पर तत्काल उचित करवाई कर अपनी  मंशा ज़ाहिर करे़   कश्मीरियत के साथ कदम से क़दम मिलाकर चलने का प्रयास  करे़   हम सभी एक समृद्ध और सम्मानित जम्मू और कश्मीर की स्थापना में  विश्वास रखते है़ं  
हमारे अपने हैं जम्मू-कश्मीर के लोग : बाबूलाल ने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर के लोग हमारे अपने लोग हैं और एक परिवार का हिस्सा है़ं   उनका इस तरह मजाक बनाना असहनीय है़   कश्मीर की बेटियों के लिए अभद्र बयानबाज़ी किसी भी व्यक्ति की कुंठित मानसिकता को दर्शाती है़    
उनसे शादी को लेकर अभद्र टिप्पणी की जा रही है, तो कोई ज़मीन को लेकर टिप्पणी कर रहा है़   जल-जंगल-ज़मीन और घर की स्त्री की अस्मिता हमारे समाज में प्रतिष्ठा के सूचक है़ं   किसी की मान प्रतिष्ठा का इस तरह से मज़ाक बनाना अमानवीय व असहनीय है़

MOLITICS SURVEY

क्या आरक्षण पर मोहन भागवत के बयान से चुनावों में बीजेपी को नुकसान होगा?

TOTAL RESPONSES : 16

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know