देहात का राज वापिस लाने के लिए ‘दुष्यंत चले गांव-चौपाल’, हर दिन 8 गांवों में करेंगे जनजागरण
Latest News
bookmarkBOOKMARK

देहात का राज वापिस लाने के लिए ‘दुष्यंत चले गांव-चौपाल’, हर दिन 8 गांवों में करेंगे जनजागरण

By Yuvaharyana calender  21-Jul-2019

देहात का राज वापिस लाने के लिए ‘दुष्यंत चले गांव-चौपाल’, हर दिन 8 गांवों में करेंगे जनजागरण

पूर्व सांसद दुष्यंत चौटाला आने वाले दिनों में हरियाणा के विभिन्न गांवों में ही रहेंगे। दुष्यंत ने तय किया है कि वे 24 जुलाई से राज्य के विभिन्न हिस्सों के गांवों में जाकर लोगों से सीधे मिलेंगे और उन्हीं के हिसाब से आगामी विधानसभा चुनाव के लिए अपनी रणनीति तय करेंगे। दुष्यंत चौटाला हर रोज दो विधानसभा क्षेत्रों के 8 गांवों में मौजिज लोगों, किसानों, मजदूरों और कर्मचारियों से मिलेंगे। वे सुबह का नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात का खाना भी अलग-अलग गांवों में करेंगे और रात्रि ठहराव भी गांव मे ही होगा।
तय कार्यक्रम के मुताबिक जेजेपी नेता दुष्यंत चौटाला 24 जुलाई की सुबह झज्जर जिले के बहादुरगढ़ हलके के गांवों से अपनी गांव-यात्रा की शुरूआत करेंगे। दोपहर तक इस हलके के 4 गांवों में जनसम्पर्क करने के बाद वे सोनीपत जिले के खरखौदा हलका पहुंचेंगे और वहां भी 4 गांवों में जनसम्पर्क करेंगे।
दुष्यंत का रात्रि भोजन और ठहराव रोहतक जिले के महम हलके में होगा जहां से वे अगली सुबह जनजागरण अभियान आगे बढ़ाएंगे। 25 जुलाई को वे दोपहर तक महम हलके के 4 गांवों में लोगों से मिल चुके होंगे और शाम के वक्त वे जींद जिले के जुलाना हलके के गांवों में होंगे। उनका रात्रि ठहराव सफीदों हलके में होगा।
इसी तरह 26 जुलाई को दुष्यंत चौटाला जींद जिले के सफीदों और पानीपत जिले के इसराना हलकों में गांवों का दौरा करेंगे और ग्रामीणों से मिलेंगे। 27 जुलाई को उनके दिन की शुरूआत कैथल जिले के कलायत हलके से होगी और दोपहर बाद वे कैथल हलके के गांवों में रहेंगे।
विशेष बात ये होगी कि इस अभियान के दौरान दुष्यंत पूरी तरह हरियाणा के देहात के जीवन को जीएंगे और गांव दर गांव लोगों से उनकी फसल, पशु, परिवार, समाज, बच्चों की शिक्षा और रोजगार से जुड़े विषयों पर बात करेंगे। दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि इस अभियान के दौरान अगर किसी ने उनसे मुलाकात करनी होगी तो उन्हें भी किसी गांव में ही आमंत्रित किया जाएगा।

MOLITICS SURVEY

क्या आरक्षण पर मोहन भागवत के बयान से चुनावों में बीजेपी को नुकसान होगा?

TOTAL RESPONSES : 18

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know