युवा सहभागिता से विकसित होंगे आधुनिकतम करघे: आयुक्त डॉ. पाठक
Latest News
bookmarkBOOKMARK

युवा सहभागिता से विकसित होंगे आधुनिकतम करघे: आयुक्त डॉ. पाठक

By Khaskhabar calender  09-Jul-2019

युवा सहभागिता से विकसित होंगे आधुनिकतम करघे: आयुक्त डॉ. पाठक

 उद्योग आयुक्त एवं सचिव सीएसआर डॉ. कृृष्णा कांत पाठक ने सोमवार को जयपुर में स्वेज फार्म स्थित थार हाथकर्घा एवं हस्तकला उत्पादक सहकारी समिति में हाथकरघा बुनकरों के फोटोयुक्त परिचय पत्र बनाने के शिविर का शुभारंभ किया। उन्होंने बताया कि सभी जिला उद्योग केन्द्रों पर आज 8 जुलाई से 19 जुलाई तक शिविर आयोजित कर हाथकरघा बुनकरों के परिचय पत्र बनाने का काम आरंभ हो गया है। उन्होंने बताया कि बनुकरों यह पहचान पत्र निःशुल्क बनाए जा रहे हैं। जयपुर में जिला उद्योग केन्द्र जयपुर शहर व ग्रामीण द्वारा बुनकरों की सुविधा के लिए स्वेजफार्म व जगतपुरा में परिचय पत्र बनाने की व्यवस्था की गई है।

आयुक्त डॉ. कृृष्णा कांत पाठक ने इस अवसर पर कहा कि प्रदेष के इंजीनियरिंग कॉलेजों के युवाओं की सहभागिता तय करते हुए कम लागत के आधुनिकतम तकनीक व गुणवत्तायुक्त करघा विकसित करने के लिए शोध करवाया जाएगा। इससे आधुनिकतम तकनीक के करघे बुनकरों को उपलब्ध हो सकेंगे। उन्होंने बताया कि अनुमोदित डिजाइन के करघे के लिए संबंधित इंजीनियरिंग कॉलेज का पुरस्कृत भी किया जाएगा।

आयुक्त डॉ. पाठक ने बताया कि महाप्रबंधक जिला उद्योग केन्द्रों द्वारा उद्योग केन्द्र परिसर में करघा लगाया गए हैं और षिविर में आने वाले बुनकरों से करघा संचालित करवा कर परिचय पत्र बनाने को कहा गया है। उन्होंने बताया कि इस अभियान से प्रदेष के करीब 25 हजार से अधिक बुनकरों को लाभ होगा।

इस अवसर पर बुनकर संघ के अध्यक्ष पवन सारष्वत ने बताया कि बुनकर संघ द्वारा बुनकरों को जिला उद्योग केंद्रों तक लाकर बुनकर परिचय पत्र बनाने में आवश्यक सहयोग व समन्वय किया जा रहा है। सभी जिला उद्योग केन्द्रों पर शिविर अवधि के दौरान जिले के हाथकरघा बुनकरों के फोटोयुक्त परिचय पत्र निःशुल्क बनाए जाएंगे।

बुनकर संघ के महाप्रबंधक आर के आमेरिया ने बताया कि प्रदेष के हाथकरघा बुनकरों की सुविधा के लिए षिविर लगाने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने बताया कि बुनकर परिचय पत्र केन्द्र व राज्य सरकार की योजनाओं में उपयोगी होंगे। महाप्रबंधक जिला उद्योग केन्द्र जयपुर शहर डीडी मीणा, ग्रामीण सुभाष शर्मा ने बताया कि अभियान के पहले दिन करीब 25 बुनकरों ने पंजीयन करवाया है। इस अवसर पर जिला उद्योग केन्द्र से उपनिदेशक शिल्पी पुरोहित, बुनकर संघ के अमित बोहरा, विभाग, बुनकर संघ व बुनकर समितियों के प्रतिनिधि और बुनकर उपस्थित थे। 

MOLITICS SURVEY

क्या करतारपुर कॉरिडोर खोलना हो सकता है ISI का एजेंडा ?

हाँ
  46.67%
नहीं
  40%
पता नहीं
  13.33%

TOTAL RESPONSES : 15

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know