8 नए मंत्री जदयू से, सुशील मोदी बोले- अपने कोटे का एक पद बाद में भरेंगे
Latest News
bookmarkBOOKMARK

8 नए मंत्री जदयू से, सुशील मोदी बोले- अपने कोटे का एक पद बाद में भरेंगे

By Bhaskar calender  02-Jun-2019

8 नए मंत्री जदयू से, सुशील मोदी बोले- अपने कोटे का एक पद बाद में भरेंगे

 बिहार में एनडीए के साथ गठबंधन के 23 महीने बाद रविवार को नीतीश कुमार के मंत्रिमंडल का दूसरा विस्तार हुआ। राज्यपाल लालजी टंडन ने 8 नए मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। मंत्री परिषद में शामिल होने वाले सभी नेता जदयू के हैं। इस बार कैबिनेट विस्तार में भाजपा विधायकों को जगह नहीं मिली, जबकि उसके कोटे का एक पद खाली है। उप-मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा है कि मुख्यमंत्री ने खाली मंत्री पद भरने के लिए भाजपा को ऑफर दिया था, लेकिन हम इस पर बाद में फैसला लेंगे। वहीं, नीतीश कुमार ने कहा कि भाजपा से कोई मतभेद नहीं, एनडीए में सब कुछ ठीक है।

 
नीतीश कैबिनेट का पहला विस्तार राजद गठबंधन के दौरान हुआ था। दूसरा विस्तार जुलाई 2017 में एनडीए में शामिल होने के बाद हुआ। ये तीसरा विस्तार है। 
इन नेताओं को कैबिनेट में मिली जगह
1. अशोक चौधरी

बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष रह चुके हैं। 25 साल कांग्रेस में रहने के बाद 2018 में पार्टी छोड़ जदयू में शामिल हो गए थे। जदयू विधान परिषद के सदस्य हैं और नीतीश कैबिनेट में शिक्षा मंत्री रह चुके हैं।
2. रामसेवक सिंह
हथुआ विधानसभा सीट से जदयू विधायक हैं।
3. नरेंद्र नारायण यादव
मधेपुरा के आलमनगर विधानसभा सीट से विधायक हैं। नीतीश कैबिनेट में पहले भी मंत्री रह चुके हैं।
4. संजय झा
जदयू के राष्ट्रीय महासचिव हैं। हाल ही एमएलसी चुने गए।
5. श्याम रजक
फुलवारीशरीफ से जदयू विधायक हैं। 1974 के जेपी आंदोलन से राजनीति में सक्रिय।
6. बीमा भारती
पूर्णिया के रुपौली से जदयू की विधायक हैं। नीतीश के पहले कार्यकाल में भी मंत्री रह चुकी हैं।
7. लक्ष्मेश्वर राय
मधुबनी के लौकहा से जदयू विधायक हैं। छात्र आंदोलन में कई बार जेल जा चुके हैं।
8. नीरज कुमार
2008 से जदयू की तरफ से विधानपरिषद पहुंचे थे। 2009 से जदयू के राज्य स्तरीय प्रवक्ता हैं। पहली बार बिहार मंत्रिमंडल में जगह मिली है।

Read News - पीएम मोदी की नई टीम में ये बात है खास, इस बार सिर्फ 11 राज्यसभा सांसदों को मंत्री पद
अभी भाजपा के कोटे से एक पद खाली 
भाजपा ने बिहार मंत्रिमंडल विस्तार की जानकारी पार्टी आलाकमान को दे दी है। अभी भाजपा कोटे से मंत्री का पद खाली है। भाजपा से नीतीश सरकार में 13 मंत्री हैं। लिहाजा भाजपा को कोई खास फर्क नहीं पड़ने वाला है।
नीतीश के 3 मंत्री सांसद बने
कुछ दिनों के भीतर जदयू कोटे वाले मंत्रियों के तीन और लोजपा के कोटे से एक मंत्री का पद खाली हुआ। नीतीश के तीन मंत्री राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह, दिनेश चंद्र यादव और पशुपति कुमार पारस सांसद चुने गए थे। मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस में जेल जाने के बाद मंजू वर्मा को भी कुछ माह पहले ही मंत्री पद से हटाया गया था।

MOLITICS SURVEY

ट्रैफिक रूल्स में हुए नए बदलाव जनता के लिए !

फायदेमंद
  33.33%
नुकसानदायक
  66.67%

TOTAL RESPONSES : 24

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know

Download App