अपनी ही सरकार के खिलाफ आमरण अनशन पर बैठे कांग्रेस विधायक
Latest News
bookmarkBOOKMARK

अपनी ही सरकार के खिलाफ आमरण अनशन पर बैठे कांग्रेस विधायक

By Jagran calender  02-Jun-2019

अपनी ही सरकार के खिलाफ आमरण अनशन पर बैठे कांग्रेस विधायक

राजस्थान के टोंक जिले में एक ट्रैक्टर चालक की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत के मामले को लेकर तीन दिन से अपनी ही सरकार के खिलाफ धरने पर बैठे कांग्रेस के विधायक एवं पूर्व पुलिस महानिदेशक हरीश मीणा ने शनिवार से आमरण अनशन शुरू कर दिया है। उनके साथ एक अन्य विधायक गोपीचंद मीणा भी आमरण अनशन पर बैठे हैं। भाजपा सांसद सुखबीर ¨सह जौनपुरिया और किरोड़ी लाल मीणा भी शनिवार को धरना स्थल पर पहुंचे ।
टोंक जिले के उनियारा उपखंड के बोसरिया गांव के पास तीन दिन पहले ट्रैक्टर चालक भजनलाल मीणा की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। आरोप है कि उनियारा थाने के पुलिसकर्मियों द्वारा की गई मारपीट से भजनलाल की मौत हुई है। आरोपित पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई समेत पांच सूत्रीय मांगों को लेकर क्षेत्रीय कांग्रेस विधायक हरीश मीणा के नेतृत्व में सैंकड़ों लोगों ने नगरफोर्ट पीएचसी के बाहर शव के साथ धरना शुरू कर दिया था ।
 
राज्य के पूर्व पुलिस महानिदेशक रहे विधायक हरीश मीणा ने पुलिस पर मामले को रफा-दफा करने का आरोप लगाया है । मीणा के नेतृत्व में रैली निकालकर लोगों ने जिला कलेक्टर आरसी ढेनवाल और पुलिस अधीक्षक चूनाराम जाट के खिलाफ नारेबाजी की और उनका पुतला फूंका । लोगों में इस बात को लेकर आक्रोश है कि दोनों ही अधिकारी मामले को गंभीरता से नहीं ले रहे और सरकार को गलत रिपोर्ट भेज रहे। उधर, आमरण अनशन शुरू होने से आंदोलन के और उग्र होने की आशंका है। धरने और आंदोलन के मद्देनजर पूरा नगरफोर्ट कस्बा छावनी में तब्दील कर दिया गया है ।

MOLITICS SURVEY

ट्रैफिक रूल्स में हुए नए बदलाव जनता के लिए !

फायदेमंद
  33.33%
नुकसानदायक
  66.67%

TOTAL RESPONSES : 24

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know