अलवर सामूहिक दुष्कर्म: चंद्रशेखर आजाद की मौजूदगी में भीम सेना कर रही विरोध प्रदर्शन
Latest News
BOOKMARK

अलवर सामूहिक दुष्कर्म: चंद्रशेखर आजाद की मौजूदगी में भीम सेना कर रही विरोध प्रदर्शन

By Jagran   10-May-2019

अलवर सामूहिक दुष्कर्म: चंद्रशेखर आजाद की मौजूदगी में भीम सेना कर रही विरोध प्रदर्शन

अलवर में हुई सामूहिक दुष्कर्म की घटना से हर कोई आहत है। आरोपियों के खिलाफ सख्त एक्शन की मांग की जा रही है, तो वहीं दूसरी तरफ, विपक्ष राज्य सरकार पर हमलावर है। इस बीच भीम सेना ने इस घटना को लेकर विरोध प्रदर्शन निकाला है। इस दौरान भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद भी वहां मौजूद है। इससे पहले गुरुवार को केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन एस राठौर के नेतृत्व में भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने इस घटना को लेकर कलक्टर कार्यालय पर विरोध प्रदर्शन किया। इस मौके पर राठौड़ ने कहा कि मामले में पुलिस की निष्क्रियता रही है। हम कलेक्टर से मिलने आए थे लेकिन वह कार्यालय में मौजूद नहीं हैं।
बता दें कि राजस्थान में अलवर जिले के थानागाजी इलाके में एक दलित महिला से दबंगों ने उसके पति के सामने ही सामूहिक दुष्कर्म किया। पांच आरोपितों ने पहले तो महिला के पति को बंधक बनाया फिर पूरे घटनाक्रम वीडियो बना लिया और इसे सोशल मीडिया पर वायरल भी कर दिया। पुलिस ने आम चुनाव के कारण इस मामले को कई दिनों तक दबाए रखा। हालांकि अब सामूहिक दुष्कर्म के सभी पांच आरोपितों हंसराज गुर्जर,छोटे लाल गुर्जर, मुहेश,इंद्रराज गुर्जर, अशोक गुर्जर को गिरफ्तार किया जा चुका है। इस मामले का वीडियो वायरल करने वाले मुकेश को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है।
जानकारी के अनुसार, राज्य सरकार मामले की जांच के लिए जांच आयोग गठित करने और फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई कराने की तैयारी कर रही है। उधर, राज्य सरकार के मंत्री टीकाराम जूली ने इस मामले में पुलिस की मिलीभगत की बात सामने आने की बात कही है। उन्होंने कहा कि कुछ हद तक स्थानीय पुलिस आरोपितों से मिली हुई थी, पुलिसकर्मियों की कॉल डिटेल निकलवाकर जांच की जाएगी। पीड़िता के पति ने थानागाजी के पूर्व विधायक हेम सिंह भड़ाना पर पैसे लेकर समझौता करने का दबाव बनाने का आरोप लगाया है। हालांकि भड़ाना ने इन आरोपों को राजनीति से प्रेरित बताया है।

MOLITICS SURVEY

क्या लोकसभा चुनाव 2019 में नेता विकास के मुद्दों की जगह आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति कर रहे हैं ??

हाँ
नहीं
अनिश्चित

TOTAL RESPONSES : 31

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know