1984 सिख दंगा: 'जो हुआ, सो हुआ' बयान पर नरेंद्र मोदी का सैम पित्रोदा पर पलटवार
Latest News
bookmarkBOOKMARK

1984 सिख दंगा: 'जो हुआ, सो हुआ' बयान पर नरेंद्र मोदी का सैम पित्रोदा पर पलटवार

By Navbharattimes calender  10-May-2019

1984 सिख दंगा: 'जो हुआ, सो हुआ' बयान पर नरेंद्र मोदी का सैम पित्रोदा पर पलटवार

लोकसभा चुनाव के आखिरी दो चरणों से पहले 1984 के सिख दंगों को लेकर कांग्रेस पर लगातार हमलवार बीजेपी को कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा के विवादित बयान से नया हथियार मिल गया है। शुक्रवार को पीएम मोदी ने जहां रोहतक रैली में पित्रोदा के बयान से सिख दंगों पर कांग्रेस को घेरा, तो वहीं दिल्ली में बीजेपी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के 12 तुलगक लेन स्थित निवास पर हल्ला बोलकर प्रदर्शन किया।
बता दें कि पित्रोदा ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि 1984 दंगों में जो हुआ सो हुआ, लेकिन मोदी सरकार को बताना चाहिए कि उसने पांच सालों में क्या काम किए हैं। पित्रोदा ने हालांकि आज स्वर्ण मंदिर की तस्वीर ट्वीट कर डैमेज कंट्रोल की कोशिश की, लेकिन मामला शांत होता नहीं दिख रहा है। 
हरियाणा के रोहतक में एक जनसभा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इंडियन ओवरसीज कांग्रेस (आईओसी) प्रमुख सैम पित्रोदा के 1984 दंगों पर दिए गए बयान पर जमकर हमला किया। पीएम मोदी ने कहा कि इनके लिए जीवन की कोई कीमत नहीं है। इनके ये तीन शब्द कांग्रेस के चरित्र को दर्शाते हैं। पीएम मोदी ने कहा, 'देश पर सबसे ज्यादा समय तक राज करने वाली कांग्रेस कितनी असंवेदनशील रही है, उसका प्रतीक है कल बोले गए तीन शब्द, ये (शब्द) ऐसे नहीं निकले हैं। ये शब्द कांग्रेस का चरित्र हैं, कांग्रेस की मानसिकता हैं, कांग्रेस के इरादे हैं। वे तीन शब्द कौन से हैं, 'हुआ तो हुआ।' आप सोचेंगे कि मोदीजी क्या बोल रहे हैं, मैं विस्तार में बताता हूं। कांग्रेस का अहंकार, कांग्रेस को चलाने वालों का अहंकार इन्हीं तीन शब्दों में हम भलीभांति समझ सकते हैं...हुआ तो हुआ।' 

MOLITICS SURVEY

ट्रैफिक रूल्स में हुए नए बदलाव जनता के लिए !

फायदेमंद
  33.33%
नुकसानदायक
  66.67%

TOTAL RESPONSES : 24

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know