प. बंगाल में यहां विकास हमेशा ही अहम कारक रहा, इस सीट पर कभी कोई मैजिक फैक्टर नहीं हुआ