'चरित्र' की कमजोर भाजपा, 'लक्ष्य की मजबूत' है !

Author :- Nilanjay Tiwari