चुनाव आयोग बताए, लवासा को किससे है जान का ख़तरा