राज्यवर्धन ने कहा- मैं फौजी हूं, नेता नहीं; कृष्णा बोलीं- 5 साल में क्या किया, ये बताएं
Latest News
BOOKMARK

राज्यवर्धन ने कहा- मैं फौजी हूं, नेता नहीं; कृष्णा बोलीं- 5 साल में क्या किया, ये बताएं

By Bhaskar   04-May-2019

राज्यवर्धन ने कहा- मैं फौजी हूं, नेता नहीं; कृष्णा बोलीं- 5 साल में क्या किया, ये बताएं

राजस्थान की जयपुर ग्रामीण सीट इस लोकसभा चुनाव की सबसे चर्चित सीटों में से एक है। पिछली बार इस सीट से सांसद बने और मोदी सरकार में मंत्री कर्नल राज्यवर्धन सिंह राठौड़ को भाजपा ने फिर से टिकट दिया है। उनके सामने कांग्रेस ने सादुलपुर से विधायक कृष्णा पूनिया को मैदान में उतारा है। दोनों ही प्रत्याशी ओलिंपिक खेलों में भारत को पदक दिला चुके हैं। भास्कर प्लस ऐप ने इन दोनों प्रत्याशियों से बात की। 
जयपुर ग्रामीण की जनता आपको वोट क्यों दे?
राज्यवर्धन सिंह राठौड़:  मैं एक फौजी हूं। फौज के बाद एक कमीटमेंट के साथ राजनीति में आया हूं। मैं नेता नहीं हूं। भारत जानता है कि खेलों में मेरा स्तर कितना ऊंचा रहा है। मैं ओलिंपिक में सिर्फ खेलने नहीं गया था, वहां पदक जीतकर आया हूं। सेना में मेरा ऊंचा स्तर रहा है। वहां स्वोर्ड ऑफ ऑनर मिला। मैंने आतंकियों का सामना किया। उसी स्टैंडर्ड को लेकर राजनीति में आया हूं। यहां सेवा करने आया हूं। इसलिए जनता मुझे चाहती है। 
कृष्णा पूनिया: हम कांग्रेस की विचारधारा और योजनाओं के नाम पर वोट मांग रहे हैं। दूसरी तरफ वह पार्टी है, जिसने 2014 में जुमले फेंके थे। आज वो किसी और की आड़ लेकर वोट मांगना चाह रही है। जयपुर ग्रामीण की जनता से मैं कहना चाहती हूं कि मैं आपके भरोसे को पूरा करूंगी। पिछली बार जो सांसद चुने गए, उन्होंने पांच वर्षों में क्या किया? जनता की नाराजगी है। हर जगह सिर्फ दावे किए गए कि हमने विकास किया है, लेकिन वास्तव में ऐसा कुछ नहीं है। जनता आज झूठे जुमलों पर वोट नहीं देना चाहती। उसे काम चाहिए। रोजगार चाहिए। विकास चाहिए।

MOLITICS SURVEY

क्या लोकसभा चुनाव 2019 में नेता विकास के मुद्दों की जगह आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति कर रहे हैं ??

हाँ
नहीं
अनिश्चित

TOTAL RESPONSES : 31

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know