अपने दौर की चुनावी हिंसा को भूल गया विपक्ष : सुशील मोदी