जहां पिता ने दो आने की नौकरी की, उसी गांव में भारत मां की रक्षा के लिए वोट मांगने आया हूं: मनोहर लाल