CM मनोहर लाल बोले- चुनावी मौसम में कर्मचारियों के धरने-प्रदर्शन आम, जायज मांगें पूरी करेंगे
Latest News
bookmarkBOOKMARK

CM मनोहर लाल बोले- चुनावी मौसम में कर्मचारियों के धरने-प्रदर्शन आम, जायज मांगें पूरी करेंगे

By Jagran calender  31-Aug-2019

CM मनोहर लाल बोले- चुनावी मौसम में कर्मचारियों के धरने-प्रदर्शन आम, जायज मांगें पूरी करेंगे

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि चुनाव के समय कई कर्मचारी संगठन अपनी मांगों को लेकर धरने-प्रदर्शन करते हैं। यह अब आम बात हो चुकी है, लेकिन जिनकी मांगें जायज हैं, उन्हें सरकार समय-समय पर पूरा करती है। धरने-प्रदर्शन जल्द ही समाप्त हो जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड के ठेकेदारों को भुगतान करने के लिए वित्त विभाग को निर्देश दे दिए गए हैं। एक किश्त विभाग ने बोर्ड को भेज दी है। जल्द ही ठेकेदारों को उनका पूरा भुगतान कर दिया जाएगा। मनोहर लाल पंचकूला में पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहे थे। सीएम ने कहा कि राज्य सरकार के कार्यकाल में तीन सरकारी व 19 निजी मेडिकल कॉलेज चल रहे या बन चुके हैं।
एमबीबीएस की 1450 सीटों पर एडमिशन
सीएम ने कहा कि वर्ष 2014 में प्रदेश में एमबीबीएस की 700 सीटें थीं। अब इस साल बढ़ाकर 1450 हो गई हैं। वर्ष 2019-20 में एमबीबीएस की 1450 सीटों पर दाखिला हुआ है। हरियाणा में जब एमबीबीएस की 2000 सीटें हो जाएंगी तो वह आदर्श स्थिति होगी।
हरियाणा विस चुनावः टिकट के 1000 से ज्यादा दावेदारों ने बढ़ाई भाजपा की चिंता, खिलाफत का डर
प्रदेश में 27 हजार चिकित्सकों की जरूरत
मनोहर लाल के अनुसार राज्य में लगभग 27 हजार चिकित्सकों की आवश्यकता है और इस दिशा में हम आगे बढ़ रहे हैं। आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति को बढ़ावा देने के लिए कुरुक्षेत्र में श्रीकृष्णा आयुष विश्वविद्यालय स्थापित किया गया है। पंचकूला के श्रीमाता मनसा देवी परिसर में राष्ट्रीय आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिकित्सा संस्थान स्थापित हो रहा है।
10 फीसद छूट के साथ प्रॉपर्टी टैक्स जमा कराने की आखिरी तारीख 31 दिसंबर
मनोहर लाल ने बताया कि गांव पट्टीकरा जिला महेंद्रगढ़ में राजकीय आयुर्वेदिक कालेज व अस्पताल स्थापित किया गया है। नेशनल आयुष मिशन के अंतर्गत गांव अकेड़ा जिला नूंह में नया राजकीय यूनानी कालेज एवं अस्पताल खोला जा रहा है। प्रदेश में 10 फीसद छूट के साथ प्रॉपर्टी टैक्स जमा करवाने की तिथि 31 दिसंबर 2019 तक कर दी गई है। साथ ही ग्रामीण इलाकों में जो छोटे मकान बनेंगे, उनके नक्शे भी पास करवाने होंगे। यह नक्शे आर्किटेक्ट से अप्रूवड नक्शे होंगे और छोटे मकानों के लिए यह मुफ्त दिए जाएंगे। 

MOLITICS SURVEY

क्या संतोष गंगवार के बयान का असर महाराष्ट्र चुनाव में होगा ?

हाँ
  50%
नहीं
  50%
पता नहीं
  0%

TOTAL RESPONSES : 2

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know