प्रदेश के हर जिले में एक मेडीकल कालेज होना चाहिए : CM मनोहर लाल
Latest News
bookmarkBOOKMARK

प्रदेश के हर जिले में एक मेडीकल कालेज होना चाहिए : CM मनोहर लाल

By Khaskhabar calender  31-Aug-2019

प्रदेश के हर जिले में एक मेडीकल कालेज होना चाहिए : CM मनोहर लाल

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार के कार्यकाल में तीन सरकारी व 19 निजी मैडीकल कालेज चल रहे हैं या बन गए हैं और जहां वर्ष 2014 में एमबीबीएस की 700 सीटें प्रदेश में थी, अब इस साल बढकऱ 1450 हो गई हैं अर्थात वर्ष 2019-20 में एमबीबीएस की 1450 सीटों पर दाखिला हुआ है। 

मुख्यमंत्री ने यह जानकारी आज पंचकूला में आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत राज्य के 10 आयुष हैल्थ एण्ड वैलनेस केन्द्रों के शुभारंभ अवसर पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए दी। इस केन्द्रों का शुभारंभ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वीडियों के लिंक के माध्यम से नई दिल्ली के विज्ञान भवन से किया। 
04 सितंबर से हिसार से चंडीगढ़ के लिए भरे उड़ान, लेकिन यूं उम्मीदों को लग सकता झटका

मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा में जब एमबीबीएस के 2000 सीटें होगी तो वह एक आदर्श स्थिति होगी। उन्होंने कहा कि हमें राज्य में लगभग 27 हजार चिकित्सकों की आवश्यकता है और इस दिशा में हम आगे बढ रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि राज्य के प्रत्येक जिले में एक मैडीकल कालेज होना चाहिए ताकि डाक्टरों की कमी को पूरा किया जा सकें और राज्य के लोगों को भरपूर स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया हो सकें। 

मनोहर लाल ने कहा कि आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति को बढ़ावा देने के लिए कुरुक्षेत्र में श्रीकृष्णा आयुष विश्वविद्यालय स्थापित किया गया है। पंचकूला के श्री माता मनसा देवी परिसर में राष्ट्रीय आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिकित्सा संस्थान स्थापित हो रहा है। उन्होंने बताया कि गांव पट्टीकरा, जिला महेन्द्रगढ़ में राजकीय आयुर्वेदिक कॉलेज व अस्पताल स्थापित किया गया है। नेशनल आयुष मिशन के अन्तर्गत गांव अकेड़ा जिला नूंह (मेवात) में नया राजकीय युनानी कॉलेज एवं अस्पताल खोला जा रहा है। 
उन्होंने कहा कि कल ही फिटनेस इंडिया मूवमेंट की शुरूआत प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने की है ताकि हर व्यक्ति फिट हो। उन्होंने कहा कि आज प्रधानमंत्री ने आयुष हैल्थ एण्ड वैलनेस केन्द्रों का वीडियो लिंक के माध्यम से शुभारंभ किया है और हरियाणा देशभर में ऐसा पहला राज्य बन गया है जहां इन सेंटरों को सबसे पहले खोला गया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की सोच है कि शरीर की बीमारियों का शरीर से कोई संबंध ही न हों, इसलिए यह कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इन निवारक उपायों के तहत योगा, दिनचर्या, खान-पान की आदंतें, पारपरांरिक औषधियां, व्यवस्था पर बल दिया जा रहा है और इनका हमारे जीवन में कोई गलत असर भी नहीं होता। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने योग को ख्याति प्रदान की है और हमने हरियाणा में योग को बढावा देने व राज्य के लोगों को फिट रखने के लिए व्यायामशालाओं को खोलने का काम किया है ताकि प्रात:काल व सायंकाल लोगों को व्यायाम कराया जाए और लोग स्वस्थ रहें। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने जिन आयुष हैल्थ एण्ड वैलनेस सेंटरों का आज शुभारंभ किया है उसी कडी में इस वर्ष देशभर में कुल 12500 सेंटर खोले जाएंगें ओर इस साल में लगभग चार हजार से अधिक सेंटर देशभर में खोले जाएंगे।

MOLITICS SURVEY

क्या संतोष गंगवार के बयान का असर महाराष्ट्र चुनाव में होगा ?

हाँ
  50%
नहीं
  50%
पता नहीं
  0%

TOTAL RESPONSES : 2

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know