राहुल ही नहीं, हरियाणा CM खट्टर के बयान ने भी की पाक की मदद
Latest News
bookmarkBOOKMARK

राहुल ही नहीं, हरियाणा CM खट्टर के बयान ने भी की पाक की मदद

By AajTak calender  28-Aug-2019

राहुल ही नहीं, हरियाणा CM खट्टर के बयान ने भी की पाक की मदद

जम्मू-कश्मीर के मसले पर पाकिस्तान हर रास्ते को अपना रहा है. अब उसने एक बार फिर संयुक्त राष्ट्र का रुख किया है और भारत पर जम्मू-कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन के आरोप लगाए हैं. पाकिस्तान के द्वारा इस चिट्ठी में कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बयान का इस्तेमाल किए जाने पर भारतीय जनता पार्टी हमलावर है, लेकिन इस चिट्ठी में पाकिस्तान ने न सिर्फ राहुल गांधी बल्कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के ट्वीट का भी जिक्र किया है.
यह भी पढ़ें: कुमारी शैलजा को बनाया जा सकता है हरियाणा कांग्रेस का प्रमुख, भूपिंदर स‍िंह हुड्डा को भी बड़ी जिम्‍मेदारी
पाकिस्तान सरकार में मानवाधिकार मंत्री शिरीन माजरी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर उस चिट्ठी को जारी किया है, जिसे पाकिस्तान द्वारा संयुक्त राष्ट्र में लिखा गया है. इस चिट्ठी में पाकिस्तान द्वारा कई तरह के आरोप लगाए गए हैं और संयुक्त राष्ट्र के द्वारा इनपर एक्शन लेने को कहा गया है.
हरियाणा सीएम खट्टर के बयान का भी जिक्र
इस चिट्ठी में पाकिस्तान की तरफ से हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के उस बयान का भी जिक्र किया गया है, जो उन्होंने 10 अगस्त 2019 को दिया था. खट्टर ने बयान दिया था 'पहले बहू बिहार से लाई जाती थीं, लेकिन अब हम कश्मीर से बहू लाएंगे.’ हालांकि, बाद में उन्होंने अपने इस बयान पर सफाई दी थी और लिंगानुपात का हवाला दिया था.
महबूबा मुफ्ती के ट्वीट का भी जिक्र
पाकिस्तान ने अपनी शिकायत में जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के कुछ ट्वीट का भी हवाला दिया है. जो उन्होंने पांच अगस्त को तब किया था, जिस वक्त जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाया गया था. महबूबा मुफ्ती ने इसे भारत के लोकतंत्र का काला दिन बताया था.
और किन बातों का जिक्र
पाकिस्तान ने कई विदेशी मीडिया की रिपोर्ट का हवाला दिया है. साथ ही एक गूगल सर्च की भी बात की है, जिसमें कहा गया है कि 5 अगस्त के बाद से भारत में ‘How to marry Kashmiri Women’ के सर्च बढ़ गए हैं. साथ ही साथ पाकिस्तान ने राहुल गांधी के एक बयान को भी रिपोर्ट में शामिल किया है. इस चिट्ठी में लिखा गया है कि अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद राहुल गांधी ने जम्मू-कश्मीर में हिंसा और लोगों की मौत का जिक्र किया था.

MOLITICS SURVEY

क्या संतोष गंगवार के बयान का असर महाराष्ट्र चुनाव में होगा ?

TOTAL RESPONSES :

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know