पथराव में घायल जेसीबी चालक की मौत, MP हनुमान बेनीवाल ने दी चेतावनी
Latest News
bookmarkBOOKMARK

पथराव में घायल जेसीबी चालक की मौत, MP हनुमान बेनीवाल ने दी चेतावनी

By News18 calender  25-Aug-2019

पथराव में घायल जेसीबी चालक की मौत, MP हनुमान बेनीवाल ने दी चेतावनी

नागौर (Nagaur) के ताऊसर गांव में अतिक्रमण हटाने (Encroachment removal) पर मचा बवाल और गंभीर (serious) हो गया है. पूरी तैयारी और सुरक्षा के लावजमे के साथ अतिक्रमण हटाने के पहुंचे पुलिस-प्रशासन  (Police -Administration) पर उस दौरान हुए पथराव (stone pelting) की चपेट में आए जेसीबी चालक फारुख की मौत (Death) हो गई है. उसके बाद मृतक के परिजनों ने अस्पताल में हंगामा मचा दिया है. वहीं ताऊसर में तनाव के बीच भारी पुलिस जाब्ता और पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी डटे हुए हैं. मामला बढ़ता देखकर पुलिस और प्रशासन की सांसें फूल गई हैं. इस बीच नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल (MP Hanuman Beniwal) ने पुलिस-प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि वे गरीबों के घर नहीं उजड़ने देंगे.

जेसीबी चालक की मौत पर अस्पताल में मचा हंगामा
रविवार को सुबह पुलिस-प्रशासन ताऊसर गांव की बंजारों की ढाणियों में अतिक्रमण हटाने लिए गया था. वहां बंजारा समाज के लोगों ने पुलिस-प्रशासन की कार्रवाई का विरोध किया और बाद में उन पर जबर्दस्त पथराव कर दिया. इससे जेसीबी चालक फारुख गंभीर रूप से घायल हो गया था. उसे तत्काल नागौर के जेल अस्पताल भेजा गया. वहां उसकी मौत हो गई. दूसरी तरफ बंजारा समाज के लोग काफी देर तक पुलिस पर पथराव करते रहे. इस पर पुलिस ने भीड़ को तीतर-बीतर करने के लिए जवाबी कार्रवाई में उस पर जमकर लाठीचार्ज किया. इससे वहां और भगदड़ मच गई. लाठीचार्ज के दौरान भी कई लोग चोटिल हो गए.

निर्मला जी, इन 33 मंत्रों से नहीं भागेगा मंदी का भूत

यह है पूरा मामला
पुलिस-प्रशासन हाईकोर्ट के आदेश की पालना में गोचर-अंगोर पर किए अतिक्रमण हटाने के लिए वहां गया था. वहां अतिक्रमण किए हुए दो दर्जन से अधिक कच्चे-पक्के मकान हटाना प्रस्तावित था. अतिक्रमण हटाने के दौरान कानून व्यवस्था प्रभावित होने और भारी विरोध की आशंका पहले से थी. इसके चलते पुलिस-प्रशासन पूरी तैयारी के साथ वहां पहुंचा था. कार्रवाई के दौरान एडीएम, एसडीएम, एएसपी, तीन डीएसपी और तहसीलदार समेत 550 से अधिक पुलिसकर्मियो का जाब्ता तैनात किया गया था. पुलिस-प्रशासन ने भारी विरोध के बीच अतिक्रमण किए हुए काफी कच्चे पक्के मकान ध्वस्त भी कर दिए थे. इसी बीच बंजारा समाज के लोगों द्वारा पथराव करने से हालात बिगड़ गए. कलक्टर-एसपी पूरे मामले पर नजर बनाए हुए हैं.

चारों तरफ से घिरा पुलिस-प्रशासन
ताऊसर बवाल मामले में पुलिस-प्रशासन चारों तरफ से घिर गया है. एक तरफ ताऊसर में तनाव बना हुआ है, वहीं दूसरी तरफ जेसीबी चालक की मौत के बाद उसके परिजन अस्पताल में हंगामा कर रहे हैं. इस बीच मामले पर सियासत भी गरमाने लगी है. सांसद हनुमान बेनीवाल ने इस मामले में बयान देते हुए कहा कि वे गरीबों के घर नहीं उजड़ने देंगे. प्रशासन ने सरकार के मंत्रियों की बात को दरकिनार किया है. राजस्व मंत्री ने सोमवार को मामले में बैठक रखी थी, लेकिन इससे पहले प्रशासन ने हाईकोर्ट के आदेश की आड़ लेकर गरीबों के घर उजाड़ दिए. बेनीवाल ने कहा कि वे बंजारों को लेकर धरने पर बैठेंगे.
 

MOLITICS SURVEY

'ओला-ऊबर के कारण ऑटो सेक्टर में मंदी' - क्या निर्मला सीतारमण के इस बयान से आप सहमत है ?

TOTAL RESPONSES : 42

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know