मोहन भगवत पर सुरजेवाला ने बोला हमला, कहा- दलित व पिछड़ा वर्ग विरोधी चेहरा फिर बेनकाब
Latest News
bookmarkBOOKMARK

मोहन भगवत पर सुरजेवाला ने बोला हमला, कहा- दलित व पिछड़ा वर्ग विरोधी चेहरा फिर बेनकाब

By Amarujala calender  20-Aug-2019

मोहन भगवत पर सुरजेवाला ने बोला हमला, कहा- दलित व पिछड़ा वर्ग विरोधी चेहरा फिर बेनकाब

कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने सोमवार को राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि संघ प्रमुख के आरक्षण विरोधी बयान से आरएसएस और भाजपा का दलित व पिछड़ा वर्ग विरोधी चेहरा एक बार फिर बेनकाब हो गया है।अपने निवास किसान भवन कैथल में मीडिया से बातचीत में सुरजेवाला ने कहा कि भाजपाई एजेंडा अब केवल बाबा साहेब आंबेडकर द्वारा निर्मित संविधान का तिरस्कार करना है। 

सच्चाई यह है कि भाजपा गरीबों व पिछड़ों को संविधान में मिले अधिकारों को खत्म करने व अतिक्रमण करने का षडयंत्र रच रही है। दलितों, पिछड़ों व आदिवासियों को संविधान में दिए अधिकारों को दबाना व कुचलना चाहती है। मोदी सरकार का यह एजेंडा कोई आज का नहीं है, इससे पहले भी आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत व आरएसएस के प्रचार प्रमुख मनमोहन वैद्य ने बिहार चुनाव के समय आरक्षण को समाप्त करने की बात कही थी।  सुरजेवाला ने कहा कि संघ प्रमुख व भाजपा पंडित जवाहरलाल नेहरू, सरदार पटेल, महात्मा गांधी, आंबेडकर व करोड़ों स्वतंत्रता सेनानियों द्वारा निर्मित गरीबों, पिछड़ों व आदिवासियों के अधिकारों को समाप्त करना चाहती है।
कन्फ्यूज हैं भूपेंद्र सिंह हुड्डा, जनता को ऐसा नेता पसंद नहीं: रामबिलास शर्मा
सीएम की जन आशीर्वाद यात्रा जन उत्पीड़न यात्रा : सुरजेवाला
सीएम की 'जन आशीर्वाद यात्रा' वास्तव में जन उत्पीड़न यात्रा है, जिसमें भाजपा सत्ता के नशे में हरियाणा की जनता को ठगने का काम कर रही है। रणदीप सिंह सुरजेवाला ने यह बातें अपने दूसरे चुनावी चरण में गांव छौत, गढ़ी, फ्रांसवाला, सिरटा, मानस, बाबालदाना, बुढाखेड़ा, संगतपुरा, नंदसिंहवाला व शहर के अलग-अलग वार्डों में कार्यकर्ताओं की मीटिंग को संबोधित करते हुए कही। 

उन्होंने कहा कि आज भाजपा के शासन में समाज का हर वर्ग त्राहि-त्राहि कर रहा है। बेरोजगार युवा सड़क पर पीटा जा रहा है, कम्प्यूटर टीचर्स न्याय की गुहार लगा रहे हैं। रोडवेज कर्मियों को जिस बेरहमी से पीटा गया यह दुखदायी दृश्य हरियाणा की सारी जनता ने देखा, गेस्ट टीचर्स अधर में लटके पड़े हैं, कर्मचारियों का 7 महीने का रेगुलर व हाउस रेंट सरकार खा गई। भाजपा ने सत्ता में आने से पहले हरियाणा की जनता से 135 वादे किए थे लेकिन उनमें से एक भी वादा पूरा नहीं किया गया।

MOLITICS SURVEY

क्या संतोष गंगवार के बयान का असर महाराष्ट्र चुनाव में होगा ?

हाँ
  50%
नहीं
  50%
पता नहीं
  0%

TOTAL RESPONSES : 2

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know