तोमर बोले- हरियाणा ने शिक्षित पंचायत गठित कर किया उदाहरण पेश, अन्य राज्यों को भी मिली प्रेरणा
Latest News
bookmarkBOOKMARK

तोमर बोले- हरियाणा ने शिक्षित पंचायत गठित कर किया उदाहरण पेश, अन्य राज्यों को भी मिली प्रेरणा

By Jagran calender  13-Aug-2019

तोमर बोले- हरियाणा ने शिक्षित पंचायत गठित कर किया उदाहरण पेश, अन्य राज्यों को भी मिली प्रेरणा

भाजपा के हरियाणा विधानसभा के चुनाव प्रभारी व केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना का तीसरा फेज शुरू हो गया है। इसके तहत देश में एक लाख 25 हजार किलोमीटर सड़क बनाई जाएगी। 80 हजार करोड़ रुपये इस योजना पर खर्च होंगे। हरियाणा में 2500 किलोमीटर सड़क बनाई जाएगी, जिस पर 1605 करोड़ रुपये खर्च होंगे। वह यहां 7 स्टार इंद्रधनुष योजना पुरस्कार समारोह में हिस्सा लेने पहुंचे थे।
तोमर ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने स्वच्छता की जो मुहिम शुरू की थी, उसके सार्थक परिणाम सामने आए हैं। गंदगी से देश में 7 लाख बच्चों की मौत होती थी, लेकिन 2 साल के प्रयास से 4 लाख बच्चों की जिंदगी बचाने में सरकार सफल रही है। यह वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन की रिपोर्ट ने यह आंकड़ा दिया है। कश्मीर से धारा 370 खत्म करने का सरकार का ऐतिहासिक फैसला रहा है। देशवासियों आज खुद को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।
कृषि मंत्री ने कहा कि हरियाणा ने शिक्षित पंचायत गठित करने का एक उदाहरण प्रस्तुत किया है जो देश के अन्य राज्यों को भी अनुसरण करने के लिए मजबूर कर रहा है। हरियाणा की इस मिसाल के अन्य राज्यों को भी प्रेरणा मिली है। उन्होंने कहा इस पहल के लिए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल और कृषि मंत्री ओपी धनखड़ बधाई के पात्र हैं। 
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए हरियाणा के कृषि मंत्री ओपी धनखड़ ने कहा कि तोमर को विधानसभा चुनाव के लिए हरियाणा का कोच बनाकर भेजा गया है। तोमर को हरियाणा का चुनाव प्रभारी बनाया गया है। उनके मार्गदर्शन में सीट जीतने का लक्ष्य हासिल किया जाएगा। उन्होंने कहा इस समारोह में झज्जर, रोहतक, भिवानी और दादरी जिलों की पंचायतों को सम्मानित किया जाएगा।
धनखड़ ने बताया कि 3604 पंचायत में एक भी बच्चा ऐसा नहीं है, जो स्कूल में नहीं जाता हो। 2312 पंचायत में एक भी मुकदमा दर्ज नहीं है। 63 फीसद पंचायत को स्टार मिला है। 1108 पंचायत को पर्यावरण में स्टार मिला है। 462 पंचायत ऐसी हैं, जहां लिंगानुपात बेहतर है। ड्राप आउट 8वीं तक था अब इसे 10वीं तक कर दिया गया है। हमने पंचायतों को शिक्षित से सक्षम बनाने का काम किया। प्रशिक्षण भी दिया गया। 3 माह का सर्टिफिकेट कोर्स भी शुरू किया। 20 लाख तक पंचायतों को खर्च करने के अधिकार भी दिए। ग्राम गौरव पट्ट भी लगवाए हैं।

MOLITICS SURVEY

क्या संतोष गंगवार के बयान का असर महाराष्ट्र चुनाव में होगा ?

TOTAL RESPONSES :

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know