कर्नाटक: बागी MLA की मांग से टेंशन में BJP
Latest News
bookmarkBOOKMARK

कर्नाटक: बागी MLA की मांग से टेंशन में BJP

By Navbharattimes calender  21-Jul-2019

कर्नाटक: बागी MLA की मांग से टेंशन में BJP

कर्नाटक में बीजेपी नेताओं का मूड इन दिनों बेहद खुशनुमा है। बीजेपी नेताओं की इस खुशी की वजह भी है। लंबे अरसे बाद विधानसभा में विश्‍वासमत के बाद उन्‍हें सरकार बनाने का मौका मिल सकता है। यही नहीं, बीजेपी के वरिष्‍ठ नेता बीएस येदियुरप्‍पा के नेतृत्‍व में सरकार बनाने के लिए शुरुआती चर्चा भी शुरू हो गई है। सरकार बनाने की कवायद शुरू होते ही बीजेपी के कई नेता टेंशन में आ गए हैं। 
बीजेपी नेताओं के टेंशन की वजह 15 कांग्रेस-जेडीएस विधायकों की भूमिका है। यदि इन विधायकों को भगवा खेमे में शामिल किया जाता है तो उन्‍हें सरकार में शामिल करना पड़ सकता है। टेंशन में चल रहे बीजेपी नेताओं ने बताया कि बीजेपी जब राज्‍य में सरकार बनाने के नजदीक पहुंच जाएगी तो कांग्रेस-जेडीएस के बागी विधायक मंत्री बनाए जाने की मांग कर सकते हैं। सभी विधायकों को मंत्रिमंडल में शामिल करना नई सरकार के लिए बेहद मुश्किल होगा। 
'क्‍या मैं यह खेल नहीं जानता हूं?' 
एक पूर्व मंत्री और बीजेपी विधायक ने कहा, 'बागियों से बड़े-बड़े वादे किए गए होंगे लेकिन जब कल ये लोग मंत्री बनाए जाने की मांग करेंगे तो आप क्‍या करेंगे? अपना अस्तित्‍व बचाना भी मुश्किल होगा।' सीएम एचडी कुमारस्‍वामी सत्‍ता में आने को बेताब द‍िख रही बीजेपी को पहले ही इस स्थिति के लिए चेतावनी दे चुके हैं। शुक्रवार को विधानसभा में उन्‍होंने कहा, 'क्‍या मैं यह खेल नहीं जानता हूं? चलिए देखते हैं कि (बागी विधायकों के सहयोग से) आप कितना दिन चलते हैं।' 

बीजेपी के अपने कई वरिष्‍ठ नेता हैं और मंत्रिपरिषद बनाने में जातियों के गणित का भी ध्‍यान रखना होगा। पार्टी के सूत्रों के मुताबिक बीजेपी की सरकार बनने पर 15 बागियों में से केवल एक या दो को कैबिनेट में शामिल किया जा सकता है। सूत्रों ने कहा, 'बागियों में से हरेक व्‍यक्ति मंत्री बनने का इच्‍छुक नहीं है। कुछ लोग अपने विधानसभा क्षेत्र के लिए ज्‍यादा पैसा चाहते हैं। यदि यह स्‍वीकार कर लिया जाता है तो वे दोबारा चुनाव लड़ सकते हैं।' 

बागियों को यूं खुश करने की तैयारी 
बीजेपी के प्रवक्‍ता एन रव‍ि कुमार कहते हैं कि बागियों को लेकर पार्टी चिंतित नहीं है। बीजेपी अपने से सरकार बनाएगी। उन्‍होंने कहा, 'हम तैयार हैं। इसमें कोई संदेह नहीं है।' माना जा रहा है कि कुछ बागी विधायकों को खुश करने के लिए राज्‍य के विभिन्‍न बोर्डों और निगमों में शीर्ष पद दिया जा सकता है। 

MOLITICS SURVEY

क्या आरक्षण पर मोहन भागवत के बयान से चुनावों में बीजेपी को नुकसान होगा?

TOTAL RESPONSES : 16

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know