अब भाजपा में ही शामिल होंगे अल्पेश ठाकोर, गुजरात के मंत्रिमंडल विस्तार में मिल सकती है जगह
Latest News
bookmarkBOOKMARK

अब भाजपा में ही शामिल होंगे अल्पेश ठाकोर, गुजरात के मंत्रिमंडल विस्तार में मिल सकती है जगह

By Oneindia calender  12-Jul-2019

अब भाजपा में ही शामिल होंगे अल्पेश ठाकोर, गुजरात के मंत्रिमंडल विस्तार में मिल सकती है जगह

कांग्रेस में बगावती तेवरों के चलते चर्चा में रहे और फिर इस्तीफा देकर काफी समय तक विधायक रहे अल्पेश ठाकोर अब भाजपा में शामिल होंगे। अल्पेश पहले इस बात से इनकार करते रहे कि वे कभी भाजपा ज्वॉइन करेंगे। मगर, अब उन्होंने खुद कहा है कि सत्ताधारी पार्टी का दामन थामेंगे। उन्हें राज्य मंत्रिमण्डल में होने वाले विस्तार में जगह मिल सकती है। राज्यसभा चुनाव के समय कांग्रेस के विरुद्ध क्रॉस वोटिंग कर अल्पेश और धवल सिंह झाला ने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया था। जिसके बाद से दोनों को भाजपा में ​लिए जाने की चर्चा होने लगी थीं।
फ़ेक न्यूज़ से कैसे निपटेगी मोदी सरकार?
गुजरात में होने वाले मंत्रिमंडल विस्तार में अल्पेश को ​जगह? सत्ताधारी पार्टी से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, मुख्यमंत्री विजय रुपाणी विधानसभा के बजट सत्र के बाद जल्द ही कैबिनेट में बड़े बदलाव कर रहे हैं। उन्हें हाईकमान की मंजूरी भी मिल गई है। मंत्रिमंडल​ विस्तार में पार्टी के सदस्यों को तो नहीं, लेकिन कांग्रेस से आये हुए नेताओं को तरजीह मिलेगी। यदि ऐसा ही हुआ तो कुछ भाजपा विधायक नाराज हो जाएंगे। वैसे, लोकसभा चुनाव के पहले कांग्रेस के विधायक रह चुके कुंवरजी बावलिया को भाजपा ने कांग्रेस में से इस्तीफा दिलवा कर 4 घंटों में कैबिनेट मंत्री की शपथ दिलवाई थी। उसके बाद जवाहर चावडा को रूपानी सरकार ने अपनी कैबिनेट में लिया था। कांग्रेस के दोनों पूर्व नेताओं को रूपानी सरकार ने कैबिनेट मंत्री बना दिया।

इन मंत्रियों को किया जा सकता है बाहर सूत्रों के मुताबिक, मुख्यमंत्री विजय रूपानी की वर्तमान कैबिनेट में शिक्षा मंत्री भूपेंद्रसिंह चुडासमा, राजस्व मंत्री कौशिक पटेल, पवित्र तीर्थ विकास मंत्री दिलीप ठाकोर और मत्स्य पालन मंत्री पुरूषोत्तम सोलंकी को कैबिनेट से निकालने की तैयारी की जा रही है। एक विधायक ने कहा कि, भाजपा के टिकट पर चुने गए वरिष्ठ विधायक रूपानी सरकार में शामिल नहीं हो रहे हैं और कांग्रेस के विधायकों को सीधे कैबिनेट मंत्री बनाया जाता है। पार्टी को अन्य पार्टी के लोग अच्छे लग रहे हैं। पार्टी के अंदरूनी सदस्यों को मुख्यमंत्री सत्ता से दूर रख रहे हैं।

अल्पेश ठाकोर और धवल ने क्रॉस वोटिंग की थी अल्पेश ठाकोर भाजपा में शामिल होने के बाद उनके साथी भी भाजपा में शामिल होने वाले हैं। मुख्यमंत्री विजय रूपानी के बंगले में आयोजित डिनर डिप्लोमेसी ने मंत्रिमंडल के विस्तार को लेकर बहस जोर पकड़ा था। कांग्रेस के विधायक अल्पेश ठाकोर और धवल सिंह झाला ने क्रॉस वोटिंग करके भाजपा उम्मीदवारों को वोट दिया था। मतदान के बाद दोनों दोनों सदस्यों ने तुरंत विधान सभा के अध्यक्ष राजेंद्र त्रिवेदी को इस्तीफा दे दिया था।

अल्पेश ठाकोर को मिल सकता है चेयरमैन पद सचिवालय के सूत्रों का कहना है कि मुख्यमंत्री विजय रूपानी अपने मंत्रिमंडल में अल्पेश ठाकोर औऱ धवलसिंह जाला को मंत्री नहीं बनायेंगे लेकिन उनको खाली बोर्ड या कोर्पोरेशन में चेयरमेन बना सकते है। रूपानी ने कांग्रेस से आये हुये विधायक बलवंतसिंह राजपूत को गुजरात औग्योगिक विकास निगम (जीआइडीसी) के चेयरमैन बना दिया है, वैसे ही अल्पेश ठाकोर को चेयरमैन पद मिलने की आशंका है।

मंत्रिमंडल से इन्हें ड्रॉप किया जा सकता है सचिवालय के सूत्रों का कहना है रूपानी अपने मंत्रिमंडल का विस्तार ना करे फिर भी, मंत्रिमंडल के सदस्यों को दिए गए विभागों में बड़े बदलाव हो सकते हैं। क्योंकि, स्वास्थ्य खराब होने के कारण राजस्व मंत्री कौशिक पटेल और पुरूषोत्तम सोलंकी अपने कार्यालय में आते नहीं हैं। शिक्षा मंत्री भूपेंद्रसिंह चूडासमा को अदालत के फैंसले के बाद अपना पद छोडना पडेंगा। कैबिनेट मंत्री दिलीप ठाकोर ने लोकसभा चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया था इसलिये पार्टी आलाकमांड उनसे नाराज है। ऐसी संभावना है कि मंत्रिमंडल से उनको ड्रोप किया जा सकता है।

दोनों विधायकों ने इस्तीफा दे दिया था गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के मंत्रिमंडल के विस्तार की अटकलें तेज हो गई हैं। कांग्रेस के दो पूर्व विधायक अल्पेश ठाकोर और धवल सिंह जाला बजट सत्र के दौरान भाजपा में शामिल हो सकते हैं। अल्पेश ने कहा है कि वह भाजपा में शामिल हो रहे हैं। इस से पहले भाजपा के शीर्ष नेताओं के कहने पर दोनों विधायकों ने इस्तीफा दे दिया था।

हाईकमान की मंजूरी भी मिल गई अल्पेश ठाकोर और धवल सिंह जाला ने गुजरात में राज्यसभा चुनाव में क्रॉस वोटिंग के बाद विधायक के पद से इस्तीफा दे दिया था। अब इन दोनों सदस्यों को रूपानी मंत्रिमंडल में शामिल होने की अटकलें तेज हो गइ हैं। सूत्रों का कहना है कि मुख्यमंत्री विजय रूपानी विधान सभा के बजट सत्र के बाद कैबिनेट में बड़े बदलाव कर रहे हैं। उन्हें हाईकमान की मंजूरी भी मिल गई है।

भाजपा विधायकों में नाराजगी के सुर अब रूपानी सरकार में अल्पेश ठाकोर को मंत्रिमंडल में शामिल करने की चर्चा चल रही हैं तब भाजपा के विधायकों में नाराजगी बढ रही है। भाजपा के एक विधायक ने कहा है कि, जो पार्टी अल्पेश ठाकोर को कैबिनेट मंत्री बनाएगी तो हम चुप बैठेंगे नहीं। पार्टी में हम विरोध प्रदर्शन करेंगे। सूत्रों का कहना है कि अगर अल्पेश ठाकोर को कैबिनेट में शामिल किया जाता है, तो बीजेपी में भूचाल आ सकता है।

क्या अन्य पार्टी के लोग अच्छे लग रहे हैं? मुख्यमंत्री विजय रूपानी की वर्तमान कैबिनेट में शिक्षा मंत्री भूपेंद्रसिंह चुडासमा, राजस्व मंत्री कौशिक पटेल, पवित्र तीर्थ विकास मंत्री दिलीप ठाकोर और मत्स्य पालन मंत्री पुरूषोत्तम सोलंकी को कैबिनेट से निकालने की तैयारी की जा रही है। एक विधायक ने कहा कि, भाजपा के टिकट पर चुने गए वरिष्ठ विधायक रूपानी सरकार में शामिल नहीं हो रहे हैं और कांग्रेस के विधायकों को सीधे कैबिनेट मंत्री बनाया जाता है। पार्टी को अन्य पार्टी के लोग अच्छे लग रहे हैं। पार्टी के अंदरूनी सदस्यों को मुख्यमंत्री सत्ता से दूर रख रहे हैं।

ऐसे दिया था विधायकी से इस्तीफा अल्पेश ठाकोर भाजपा में शामिल होने के बाद उनके साथी भी भाजपा में शामिल होने वाले हैं। मुख्यमंत्री विजय रूपानी के बंगले में आयोजित डिनर डिप्लोमेसी ने मंत्रिमंडल के विस्तार को लेकर बहस जोर पकड़ा था। कांग्रेस के विधायक अल्पेश ठाकोर और धवल सिंह झाला ने क्रॉस वोटिंग करके भाजपा उम्मीदवारों को वोट दिया था। मतदान के बाद दोनों दोनों सदस्यों ने तुरंत विधान सभा के अध्यक्ष राजेंद्र त्रिवेदी को इस्तीफा दे दिया था। सचिवालय के सूत्रों का कहना है कि मुख्यमंत्री विजय रूपानी अपने मंत्रिमंडल में अल्पेश ठाकोर औऱ धवलसिंह जाला को मंत्री नहीं बनायेंगे, लेकिन उनको खाली बोर्ड या कोर्पोरेशन में चेयरमेन बना सकते है। रूपानी ने कांग्रेस से आये हुए विधायक बलवंतसिंह राजपूत को गुजरात औग्योगिक विकास निगम (जीआइडीसी) के चेयरमेन बना दिया है, वैसे ही अल्पेश ठाकोर को चेयरमैन पद मिलने की आशंका है।
 

MOLITICS SURVEY

मॉब लिंचिंग किस वजह से हो रही है ?

दाढ़ी
  5.66%
टोपी
  9.43%
राष्ट्रवाद
  84.91%

TOTAL RESPONSES : 53

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know