भाजपा के चक्रव्यूह में फंसने से मिली दिल्ली में कांग्रेस को करारी हार!