गहलोत बोले- मच्छर को कपड़े पहनाना, हाथी को गोद में झुलाना और तुमसे सच बुलवाना असंभव है मोदी
Latest News
BOOKMARK

गहलोत बोले- मच्छर को कपड़े पहनाना, हाथी को गोद में झुलाना और तुमसे सच बुलवाना असंभव है मोदी

By Bhaskar   01-May-2019

गहलोत बोले- मच्छर को कपड़े पहनाना, हाथी को गोद में झुलाना और तुमसे सच बुलवाना असंभव है मोदी

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को यहां भाजपा, आरएसएस और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला। गहलोत ने कहा कि नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री पद की गरिमा के अनुरूप भाषा नहीं बोलते। आरएसएस इस चुनाव में काफी रूचि ले रहा है। संघ को सत्ता का खून मुंह लग गया है। गहलोत ने पीसी में पत्रकारों को एक पर्चा भी बांटा, जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से 41 सवाल पूछे हैं। इन सवालों में पूछा गया है- बुलेट ट्रेन के कितने कोच तैयार हो गए हैं, अलगाववादियों को मिल रही सुविधा बंद कर दी गईं हैं क्या?
गहलोत ने कहा कि जिस रूप में पीएम ने राजस्थान के सीएम पर अटैक किया और कहा कि मैं पाकिस्तान की भाषा बोल रहा हूं। देश में डेमोक्रेसी है और अगर नरेंद्र मोदी पीएम चुने गए हैं तो राजस्थान का मुख्यमंत्री भी चुना गया है। पीएम को कोई अधिकार नहीं है कि किसी सीएम के बारे में इतनी गंभीर बात कहें। पहला आरोप लगा कि पाकिस्तान के लोग जैसा सेाचते हैं ऐसा मैं सोचता हूं। दूसरा आरोप लगा कि राजस्थान से आंकड़े नहीं भेजे जाते हैं। मतलब मुख्यमंत्री जी को शर्म आनी चाहिए कि वे पाकिस्तान की भाषा बोल रहे हैं और आंकड़े नहीं भेज रहे हैं। गहलोत ने कहा- आप मुख्यमंत्री के खिलाफ हो सकते हैं, लेकिन किसानों ने आपका क्या बिगाड़ा। इस तरह की भाषा बोलना ठीक नहीं है।
गहलोत ने कहा- इसलिए मैं कई बार कहता हूं कि वे असत्य बोलते हैं। वे झूठ बोलकर काम चला रहे हैं। जब पीएम बोलता है तो वह बात देशवासियों के दिल को छूने वाली होनी चाहिए। इसके पक्ष में मुख्यमंत्री ने एक उदाहरण भी दिया। गहलोत ने कहा, मुझे किसी ने एक कोट भेजा है- मच्छर को कपड़े पहनाना, हाथी को गोद में झुलाना और तुमसे सच बुलवाना सचमुच असंभव है नरेंद्र मोदी।

MOLITICS SURVEY

क्या लोकसभा चुनाव 2019 में नेता विकास के मुद्दों की जगह आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति कर रहे हैं ??

हाँ
नहीं
अनिश्चित

TOTAL RESPONSES : 31

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know