यूपी में रावण के साथ हाथ मिला सकते हैं जिग्नेश, दलित राजनीति को धार देने का प्रयास

News

Home > News

यूपी में रावण के साथ हाथ मिला सकते हैं जिग्नेश, दलित राजनीति को धार देने का प्रयास

यूपी में रावण के साथ हाथ मिला सकते हैं जिग्नेश, दलित राजनीति को धार देने का प्रयास

जातीय हिंसा के मामले में सहारनपुर जेल में करीब 15 महीने तक बंद रहे भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर उर्फ रावण अब गुजरात के जिग्नेश मेवाणी के साथ मिलकर उत्तर प्रदेश की दलित राजनीति को नई धार दे सकते हैं। जातीय हिंसा के मामले में रावण को सहारनपुर जेल से आज सुबह रिहा किया गया है।
गुजरात के विधानसभा चुनाव में अपनी पहचाने बनाने वाले जिग्नेश मेवाणी अब उत्तर प्रदेश की ओर रुख करने के मूड में हैं। उनकी योजना यहां पर रावण के साथ मिलकर दलित राजनीति को नई धार देने की है। भीम आर्मी संस्थापक आजाद उर्फ रावण की आज तड़के रिहा किया गया। रावण की इस तरह की रिहाई की सियासी गलियारे में जोरदार चर्चा है। माना जा रहा है कि चंद्रशेखर उर्फ रावण की रिहाई के साथ अब उत्तर प्रदेश में गुजरात के दलित नेता जिग्नेश मेवाणी की सक्रियता भी बढ़ेगी। फिलहाल इन दोनों का फोकस पश्चिमी उत्तर प्रदेश में है। यहां पर दोनों युवा नेता के आने से चंद्रशेखर के रूप में दलितों का नया नेतृत्व मिल सकता है।

Like/Dislike Leader Related to This News
Jignesh Mevani

Jignesh Mevani

MLA IND

Vadgam, Gujarat