झारखंड में 16 अक्तूबर से होगी सरकारी दर पर बालू की बिक्री, ऑनलाइन देना होगा ऑर्डर
Latest News
bookmarkBOOKMARK

झारखंड में 16 अक्तूबर से होगी सरकारी दर पर बालू की बिक्री, ऑनलाइन देना होगा ऑर्डर

By Prabhatkhabar calender  05-Sep-2019

झारखंड में 16 अक्तूबर से होगी सरकारी दर पर बालू की बिक्री, ऑनलाइन देना होगा ऑर्डर

झारखंड में 16 अक्तूबर से बालू की अॉनलाइन बिक्री शुरू हो जायेगी. झारखंड राज्य खनिज विकास निगम(जेएसएमडीसी) इसकी तैयारी कर रहा है. 
खान सचिव अबु बकर सिद्दीख ने बताया कि 15 अक्तूबर तक एनजीटी के आदेश पर नदियों से बालू की निकासी पर रोक है. पर 16 अप्रैल से बालू की निकासी शुरू हो जायेगी. साथ ही जेएसएमडीसी द्वारा जिन बालू घाटों का टेंडर किया जा चुका है, उन बालू घाटों से बालू की निकासी शुरू हो जायेगी. 
INX मीडिया केस में पी चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट से झटका
गौरतलब है कि राज्य सरकार ने बालू घाटों के संचालन की जिम्मेदारी जेएसएमडीसी को दे चुकी है. जेएसएमडीसी द्वारा पांच हेक्टेयर से कम क्षेत्रफल वाले 17 बालू घाटों से बालू के निकासी, ट्रांसपोर्टेशन के लिए टेंडर फाइनल किया जा चुका है. इनकी पर्यावरण स्वीकृति भी ली जा चुकी है.  
 
31 अगस्त को पांच हेक्टेयर से कम क्षेत्रफल वाले 47 बालू घाटों का टेंडर किया गया है. यह भी सितंबर माह के अंत तक फाइनल हो जायेगा. जेएसएमडीसी द्वारा बालू की बिक्री अॉनलाइन की जायेगी. इसके लिए जेएसएमडीसी की साइट पर जाकर अॉर्डर देना होगा. इसके बाद संबंधित व्यक्ति के बताये हुए स्थान पर बालू पहुंचा दिया जायेगा. राज्य सरकार द्वारा निर्धारित दर पर बालू की बिक्री की जायेगी.    
झारखंड सरकार द्वारा जो बालू की दर निर्धारित की गयी है, उसके अनुसार एक सौ सीएफटी की दर 400 रुपये है. एक टर्बो 709 ट्रक में 130 सीएफटी बालू की क्षमता है. इसके भाड़ा आदि खर्च जोड़कर दर करीब 2200 से 2500 रुपये तक ही आती है.  यानी इसी दर पर आमलोगों के बीच बालू की बिक्री होगी. 
 
इन घाटों के लिए निकाला गया है टेंडर : रांची में श्यामनगर और विश्रामपुर, खूंटी में गनोलोइया, हासामाहिल, बिचना, मरगांव व गुरनी, सोदे, लोहरदगा जिले के ढोबा, दांदू, हजारीबाग जिले के सिरमा, शाहपुर, ढेंगा, बरकागांव, कोडरमा जिले के दशहारो कुर्द, जमकाटी, कुंदी धनवार, चतरा जिले बिहारी, मंझगांव, बोकारो जिले जरनडीह, गिरिडीह जिले के गंगापुर उसरी नदी घाट,पीरटांड़, इरगा नदी घाट, पहाड़पुर,उरो, अंगिया, मकतपुर/बरमसिया, झारखंडीघाट, पूर्वी सिंहभूम जिले के तिलाबानी, सरायकेला-खरसावां जिले के छपरा दुमका जिले के  सामगाछी गुमरोव सरशजोर, गोड्डा जिले के लक्ष्मी, सनातन-सिमरिया, बोराछापर-लता दिवानी, पाकुड़ जिले बेनाकुड़ी, बारासिंगपुर, जामताड़ा जिले  के रंगसोल, कुसुमपहाड़ी, पलामू जिले के सुदना, लातेहार जिले के रजहर, अमडिहा, मल्हान घाट, गढ़वा जिले डंडा, चेचरिया, सुरो, अमहार खास व टंडवा.

MOLITICS SURVEY

'ओला-ऊबर के कारण ऑटो सेक्टर में मंदी' - क्या निर्मला सीतारमण के इस बयान से आप सहमत है ?

TOTAL RESPONSES : 53

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know