BJP-कांग्रेस के लिए चुनौती बना है 'आई लव केजरीवाल' कैंपेन
Latest News
bookmarkBOOKMARK

BJP-कांग्रेस के लिए चुनौती बना है 'आई लव केजरीवाल' कैंपेन

By News18 Hindi calender  03-Sep-2019

BJP-कांग्रेस के लिए चुनौती बना है 'आई लव केजरीवाल' कैंपेन

आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) ने 1 सितंबर से पूरी दिल्ली में जनसंवाद यात्रा शुरू की थी. बीते दो दिनों की जनसंवाद यात्राओं में जनता की ओर से अपार समर्थन मिल रहा है. साफ है कि दिल्ली की जनता के बढ़ चढ़कर हिस्‍सा लेने से केजरीवाल सरकार भी गदगद है. जबकि सरकार का एक खास कैंपेन लोगों के सिर चढ़कर बोल रहा है. यकीनन आम आदमी पार्टी का ये कैंपेन भाजपा (BJP) और कांग्रेस (Congress) के लिए परेशानी का कारण बन रहा है.

आई लव केजरीवाल कैंपेन बना दिल्ली वालों की पसंद
जनसंवाद कार्यक्रम के साथ-साथ आप एक और कैंपेन 'आई लव केजरीवाल (I Love Kejriwal) ' चला रही है. जो लोग भी जनसंवाद कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को दोबारा से दिल्ली का मुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं उन लोगों को पार्टी के साथ जोड़ने का काम किया जा रहा है. जबकि मंडल प्रभारियों द्वारा 'आई लव केजरीवाल' का एक पर्चा जन-जन तक पहुंचाने का काम किया जा रहा है.

'आई लव केजरीवाल' का कैंपेन ऑटो रिक्शा वालों द्वारा शुरू किया गया और यह कैंपेन बहुत तेजी से दिल्ली में फैलता जा रहा है. जनता की ओर से मिली सकारात्मक जानकारियों के आधार पर इस कैंपेन को जन-जन तक पहुंचाने का निर्णय लिया गया और अब यह कैंपेन मंडल प्रभारियों के माध्यम से घर-घर पहुंचाने का काम चल रहा है.

भाजपा के मुख्यमंत्री पद के दावेदार तीनों नेताओं को आमंत्रण
गोपाल राय ने कहा कि मैं मीडिया के माध्यम से भाजपा के मुख्यमंत्री पद के दावेदार तीनों नेताओं को आमंत्रण देता हूं कि वह हमारे जनसंवाद कार्यक्रम में आएं और इस संबंध में अपने विचार भी रखें. उन्होंने कहा कि मुखर्जी नगर में भाजपा नेता विजय गोयल द्वारा आयोजित जनसंवाद कार्यक्रम में आम आदमी पार्टी के नेता दिलीप पांडे संवाद करने के लिए पहुंचे, तो उनके साथ भाजपा के लोगों ने बदतमीजी की. लेकिन हम भाजपा के नेताओं को आमंत्रित करते हैं, वह हमारे मंच पर आएं, हम उन्हें माइक भी देंगे, उन्हें बोलने का मौका भी देंगे और वह जनता के सामने बिजली और पानी के मुद्दे पर अपना पक्ष रखें. आम आदमी पार्टी भी अपना पक्ष रखेगी और जनता के बीच से जो प्रतिक्रियाएं आएंगी उससे साफ हो जाएगा कि जनता किसके साथ है.

ये भी पढ़ें
कांग्रेस ज्वाइन कर सकती हैं AAP विधायक अलका, सोनिया से की मुलाकात

MOLITICS SURVEY

'ओला-ऊबर के कारण ऑटो सेक्टर में मंदी' - क्या निर्मला सीतारमण के इस बयान से आप सहमत है ?

हाँ
  20.75%
नहीं
  69.81%
कुछ कह नहीं सकते
  9.43%

TOTAL RESPONSES : 53

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know

Download App