घर बैठे कर सकेंगे मतदाता सूची में गलती ठीक, निर्वाचन आयोग ने शुरु की ये नयी सुविधा
Latest News
bookmarkBOOKMARK

घर बैठे कर सकेंगे मतदाता सूची में गलती ठीक, निर्वाचन आयोग ने शुरु की ये नयी सुविधा

By Dainik Jagran calender  03-Sep-2019

घर बैठे कर सकेंगे मतदाता सूची में गलती ठीक, निर्वाचन आयोग ने शुरु की ये नयी सुविधा

 मतदाता अब घर बैठे मतदाता सूची में अपने नाम, आयु, फोटो, पते आदि में गलती को ठीक कर सकेंगे। बूथ स्तर के अधिकारी मोबाइल एप के माध्यम से ऐसी गलतियों को ठीक करेंगे। प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी देवेश कुमार ने रविवार को हिमाचल में चलने वाले मतदाता सत्यापन कार्यक्रम (ईवीपी) की शुरुआत की। उन्होंने मतदाताओं के अधिकारों व दावों को दर्शाने वाले पोस्टर को जारी कर ईवीपी का शुभारंभ किया। उन्होंने शिमला में पत्रकारों को बताया कि पहली सितंबर से 15 अक्टूबर तक राष्ट्रीय मतदाता सेवा पोर्टल (एनवीएसपी) के माध्मम से ईवीपी चलाया जाएगा। भारतीय निर्वाचन आयोग ने मतदाता सूचियों की विसंगतियां दूर करने के लिए ईवीपी शुरू किया है।
  •  
  •  
  •  
  •  
Publish Date:Mon, 02 Sep 2019 09:11 AM (IST)
अब आप मोबाइल एप के माध्‍यम से घर बैठे ही मतदाता सूची में अपने नाम आयु फोटो पते आदि में गलती को ठीक कर सकेंगे।
 
शिमला, राज्य ब्यूरो। मतदाता अब घर बैठे मतदाता सूची में अपने नाम, आयु, फोटो, पते आदि में गलती को ठीक कर सकेंगे। बूथ स्तर के अधिकारी मोबाइल एप के माध्यम से ऐसी गलतियों को ठीक करेंगे। प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी देवेश कुमार ने रविवार को हिमाचल में चलने वाले मतदाता सत्यापन कार्यक्रम (ईवीपी) की शुरुआत की। उन्होंने मतदाताओं के अधिकारों व दावों को दर्शाने वाले पोस्टर को जारी कर ईवीपी का शुभारंभ किया। उन्होंने शिमला में पत्रकारों को बताया कि पहली सितंबर से 15 अक्टूबर तक राष्ट्रीय मतदाता सेवा पोर्टल (एनवीएसपी) के माध्मम से ईवीपी चलाया जाएगा। भारतीय निर्वाचन आयोग ने मतदाता सूचियों की विसंगतियां दूर करने के लिए ईवीपी शुरू किया है।
मोबाइल एप के माध्यम से बूथ स्तर के अधिकारी मतदाताओं के नाम, पते, फोटो जैसी जानकारियों को दर्ज कर सकेंगे। इससे मतदाता सूचियों को पूर्ण रूप से शुद्ध करने में सहायता होगी। इसके लिए कई माध्यम प्रदान किए गए हैं जिनसे किसी भी तरह की गलती को ठीक किया जा सकता है। जो मतदाता एक विधानसभा क्षेत्र से दूसरे विधानसभा क्षेत्र में अपना नाम बदलवाना चाहते हैं तो ऐसा भी हो सकेगा। संशोधन करने के बाद इसका पता करने के लिए संबंधित बूथ स्तर के अधिकारी 15 अक्टूबर के बाद घर-घर जाकर दस्तावेजों को जांचेंगे और उसके बाद उनमें सुधार होगा।
CATS Strike - ठेकेदारी प्रथा पर Aam Aadmi Party का स्टैंड बदला हो तो बताए- Alka Lamba
ये फार्म भरकर कर सकेंगे ऑनलाइन आवेदन
  •  
  •  
  •  
  •  
Publish Date:Mon, 02 Sep 2019 09:11 AM (IST)
अब आप मोबाइल एप के माध्‍यम से घर बैठे ही मतदाता सूची में अपने नाम आयु फोटो पते आदि में गलती को ठीक कर सकेंगे।
 
शिमला, राज्य ब्यूरो। मतदाता अब घर बैठे मतदाता सूची में अपने नाम, आयु, फोटो, पते आदि में गलती को ठीक कर सकेंगे। बूथ स्तर के अधिकारी मोबाइल एप के माध्यम से ऐसी गलतियों को ठीक करेंगे। प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी देवेश कुमार ने रविवार को हिमाचल में चलने वाले मतदाता सत्यापन कार्यक्रम (ईवीपी) की शुरुआत की। उन्होंने मतदाताओं के अधिकारों व दावों को दर्शाने वाले पोस्टर को जारी कर ईवीपी का शुभारंभ किया। उन्होंने शिमला में पत्रकारों को बताया कि पहली सितंबर से 15 अक्टूबर तक राष्ट्रीय मतदाता सेवा पोर्टल (एनवीएसपी) के माध्मम से ईवीपी चलाया जाएगा। भारतीय निर्वाचन आयोग ने मतदाता सूचियों की विसंगतियां दूर करने के लिए ईवीपी शुरू किया है।
मोबाइल एप के माध्यम से बूथ स्तर के अधिकारी मतदाताओं के नाम, पते, फोटो जैसी जानकारियों को दर्ज कर सकेंगे। इससे मतदाता सूचियों को पूर्ण रूप से शुद्ध करने में सहायता होगी। इसके लिए कई माध्यम प्रदान किए गए हैं जिनसे किसी भी तरह की गलती को ठीक किया जा सकता है। जो मतदाता एक विधानसभा क्षेत्र से दूसरे विधानसभा क्षेत्र में अपना नाम बदलवाना चाहते हैं तो ऐसा भी हो सकेगा। संशोधन करने के बाद इसका पता करने के लिए संबंधित बूथ स्तर के अधिकारी 15 अक्टूबर के बाद घर-घर जाकर दस्तावेजों को जांचेंगे और उसके बाद उनमें सुधार होगा। 
ये फार्म भरकर कर सकेंगे ऑनलाइन आवेदन
-जिन लोगों के नाम मतदाता सूची में दर्ज नहीं हैं और निर्धारित नियमों को पूरा करते हैं, उन्हें फार्म छह में पासपोर्ट आकार की फोटो के साथ आवेदन करना होगा।
-अपात्र मतदाताओं के नाम मतदाता सूची से हटाने के लिए लोगों को फार्म सात में करना होगा आवेदन।
कैसे दूर कर सकेंगे गलती
-मतदाता वोटर हेल्पलाइन 1950
-राष्ट्रीय मतदाता सेवा पोर्टल (एनवीएसपी)
-कॉमन सर्विस सेंटर या लोकमित्र केंद्र
-निर्वाचन रजिस्ट्रीकरण अधिकारी (एसडीएम) कार्यालय

MOLITICS SURVEY

क्या संतोष गंगवार के बयान का असर महाराष्ट्र चुनाव में होगा ?

हाँ
  50%
नहीं
  50%
पता नहीं
  0%

TOTAL RESPONSES : 2

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know