यूपी में उप चुनाव : अब भारतीय जनता पार्टी पर दबाव बनाने की स्थिति में नहीं सहयोगी दल
Latest News
bookmarkBOOKMARK

यूपी में उप चुनाव : अब भारतीय जनता पार्टी पर दबाव बनाने की स्थिति में नहीं सहयोगी दल

By Jagran calender  03-Sep-2019

यूपी में उप चुनाव : अब भारतीय जनता पार्टी पर दबाव बनाने की स्थिति में नहीं सहयोगी दल

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35 ए हटाए जाने के बाद जहां आमजन में भाजपा का आकर्षण बढ़ा है वहीं सहयोगी दलों का दबाव भी कम हुआ है। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी को पहले ही किनारे कर चुकी भाजपा अब अपना दल (एस) और निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल (निषाद) को भी पहले की तरह महत्व नहीं दे रही है। अब इन दलों की वह स्थिति भी नहीं रही कि दबाव बना सकें। 
मंत्रिमंडल विस्तार से लेकर कई मौकों पर इसकी बानगी दिखी है। उप चुनाव में भी इन दलों ने समझौते में सीटों की मांग की है, लेकिन भाजपा अपने ही उम्मीदवारों पर दांव लगाने की तैयारी कर रही है। इसके पहले सहयोगी दल खूब दबाव बनाते थे और 'सबका साथ-सबका विश्वास' नारे का हवाला देकर भाजपा नेता उनकी मनुहार में जुटे रहते थे लेकिन अब वह स्थिति नहीं रही। भाजपा सहयोगी दलों को सिर्फ इसलिए साथ रखना चाहती ताकि किसी को यह कहने का मौका न मिले कि मतलब निकल गया तो पहचानते नहीं।
रविदास मंदिर को फिर से बनवाने के लिए सड़कों पर उतरेगा मुस्लिम समाज
हमीरपुर में उप चुनाव की तारीख तय हो गई है, जबकि शेष 12 विधानसभा सीटों पर उप चुनाव होने हैं। इनमें 11 सीटें विधायकों के सांसद बन जाने से रिक्त हुई हैं। प्रतापगढ़ सदर विधानसभा सीट अपना दल एस के विधायक संगम लाल गुप्ता के भाजपा के सिंबल पर सांसद बनने से रिक्त हुई है। स्वाभाविक रूप से प्रतापगढ़ सीट पर अपना दल एस की दावेदारी है, लेकिन भाजपा इसे छोड़ने के मूड में दिख नहीं रही है। यद्यपि अधिकृत रूप से इस पर कोई बोल नहीं रहा है, लेकिन जम्मू-कश्मीर में एक विधान-एक निशान का फार्मूला लागू होने के बाद भाजपा बदले माहौल को देखते हुए सभी सीटों पर अकेले मैदान में आना चाहती है। निषाद पार्टी भी अंबेडकरनगर जिले की जलालपुर समेत एक-दो सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने की कोशिश में है, लेकिन भाजपा अपने निषाद नेताओं को आगे करना चाहती है।मंत्रिमंडल में भी नहीं दी जगह
मोदी की पिछली सरकार में मंत्री रहीं मीरजापुर की सांसद व अपना दल एस की अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल को इस बार न केंद्रीय मंत्रिमंडल में और न ही योगी मंत्रिमंडल के विस्तार में उनके एमएलसी पति आशीष सिंह को शपथ दिलाई गई। मंत्रिमंडल में कानपुर की नीलिमा कटियार से लेकर मीरजापुर के भाजपा विधायक रमाशंकर सिंह को मौका मिला और कुर्मी बिरादरी का संतुलन बना दिया।
 
सभी सीटें जीतेगी भाजपा
 
भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि उप चुनाव में भी पिछले चुनावों की तरह भाजपा की बड़ी जीत होगी। हम सभी सीटों पर उप चुनाव जीतेंगे। भाजपा का एक-एक कार्यकर्ता चुनाव के लिए तैयार है।
 
 

MOLITICS SURVEY

क्या संतोष गंगवार के बयान का असर महाराष्ट्र चुनाव में होगा ?

TOTAL RESPONSES : 2

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know