CM योगी आदित्यनाथ आज करेंगे नए पुलिस मुख्यालय का उद्घाटन, अखिलेश बोले- हमने किया था शिलान्यास
Latest News
bookmarkBOOKMARK

CM योगी आदित्यनाथ आज करेंगे नए पुलिस मुख्यालय का उद्घाटन, अखिलेश बोले- हमने किया था शिलान्यास

By Jagran calender  02-Sep-2019

CM योगी आदित्यनाथ आज करेंगे नए पुलिस मुख्यालय का उद्घाटन, अखिलेश बोले- हमने किया था शिलान्यास

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार को नए पुलिस मुख्यालय का उद्घाटन करेंगे। इस भवन को सिग्नेचर बिल्डिंग का नाम दिया गया है। यह भवन 800 करोड़ रुपये से ज्यादा की लागत से बना है। 
विदेशों से भारतीयों को निकाल दिया जाए तब अमित शाह क्या करेंगे?
लखनऊ के गोमतीनगर विस्तार में भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी अंतरराष्ट्रीय इकाना क्रिकेट स्टेडियम के सामने बने नए पुलिस भवन में पुलिस अधिकारी बैठने लगे हैं, लेकिन सोमवार की शाम को मुख्यमंत्री इसका विधिवत उद्घाटन करेंगे। भव्य सिग्नेचर बिल्डिंग के नौवें तल पर डीजीपी का दफ्तर है। डीजीपी ऑफिस से लगा गार्डन भी है जो बालकनी में बना है। यहां से पूरा गोमतीनगर विस्तार और गोमती नदी का शानदार नजारा दिखता है। पुलिस मुख्यालय का आकर्षण लोगों में खूब है।
लखनऊ में उप्र के जिस अत्याधुनिक पुलिस मुख्यालय का शिलान्यास सपा काल में हमने किया था, अब उसका उद्घाटन होने जा रहा है. इसके पीछे क़ानून-व्यवस्था को सक्षम बनाने का विचार रहा है. वर्तमान में उप्र जिस आपराधिक-अराजकता के दौर से गुज़र रहा है, आशा है ये भवन उसे सुधारने में सहायक होगा.
सपा अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने नए पुलिस मुख्यालय का उद्घाटन से पहले ट्वीट कर कहा कि 'लखनऊ में उत्तर प्रदेश के जिस अत्याधुनिक पुलिस मुख्यालय का शिलान्यास सपा काल में हमने किया था, अब उसका उद्घाटन होने जा रहा है। इसके पीछे कानून-व्यवस्था को सक्षम बनाने का विचार रहा है। वर्तमान में उत्तर प्रदेश जिस आपराधिक-अराजकता के दौर से गुजर रहा है, आशा है यह भवन उसे सुधारने में सहायक होगा।'
अखिलेश यादव के ट्वीट पर पलटवार
सीएम योगी आदित्यनाथ के मीडिया सलाहकार मृत्युंजय कुमार ने सपा अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की कानून-व्यवस्था पर की गई टिप्पणी पर पलटवार करते हुए ट्वीट कर कहा कि 'प्रदेश को अपराधिक अराजकता का पर्याय बना देने वाले जब ऐसी बात करते हैं तो हंसी आती है। आधे अधूरे काम का श्रेय लेने की होड़ में सचाई को मत भूलिए। आज अपराधी पुलिस के भय से सरेंडर कर रहे हैं, बेल तोड़वा कर जेल जा रहे हैं। उसकी तुलना में अपने शासन को देखिए कि कैसे गुंडे थाने चलाते थे।' उन्होंने आगे लिखा कि 'प्रदेश में वर्ष 2017 की तुलना में वर्ष 2018 में गम्भीर अपराधों जैसे डकैती, बलात्कार, हत्या, अपहरण एवं लूट के अपराधों में कमी आयी है। डकैती में 42.63 प्रतिशत, बलात्कार में 7.63 प्रतिशत, हत्या में 7.08 प्रतिशत, लूट में 22.1 प्रतिशत, फिरौती हेतु अपहरण में 30.43 प्रतिशत की कमी आयी है।'
 
 

MOLITICS SURVEY

क्या संतोष गंगवार के बयान का असर महाराष्ट्र चुनाव में होगा ?

हाँ
  50%
नहीं
  50%
पता नहीं
  0%

TOTAL RESPONSES : 2

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know