ज्योतिरादित्य भले ही ख़फा हों गोविंद राजपूत चाहते हैं सिंधिया ही बनें PCC चीफ
Latest News
bookmarkBOOKMARK

ज्योतिरादित्य भले ही ख़फा हों गोविंद राजपूत चाहते हैं सिंधिया ही बनें PCC चीफ

By News18 calender  30-Aug-2019

ज्योतिरादित्य भले ही ख़फा हों गोविंद राजपूत चाहते हैं सिंधिया ही बनें PCC चीफ

ज्योतिरादित्य सिंधिया (JYOTIRADITYA SCINDIA)भले ही ख़फ़ा चल रहे हों लेकिन गोविंद राजपूत (GOVIND RAJPUT) तो उन्हें ही मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष (PCC CHIEF)बनते देखना चाहते हैं. उन्होंने यहां तक कह दिया कि मध्य प्रदेश में सिंधिया और कमलनाथ के (KAMALNATH)की वजह से ही कांग्रेस सत्ता में आयी है इसलिए सिंधिया को सम्मान दिया जाना चाहिए.

कमलनाथ-ज्योतिरादित्य हैं चेहरा
कमलनाथ सरकार में मंत्री गोविंद सिंह राजपूत भी चाहते हैं कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ही पीसीसी चीफ बनें. उन्होंने कहा ज्योतिरादित्य सिंधिया महासचिव और कमलनाथ मुख्यमंत्री हैं. पार्टी नेतृत्व दोनों को सम्मान देकर कोई फैसला करेगी तो मध्य प्रदेश में खुशी होगी.राज्य में सब जानते हैं ज्योतिरादित्य सिंधिया और कमलनाथ की जोड़ी की वजह से ही राज्य में कांग्रेस की सरकार बनी है.

राजपूत ने अपनी बात ये कहकर आगे बढ़ायी कि प्रदेश अध्यक्ष को लेकर फैसला हाईकमान को लेना है. ज्योतिरादित्य सिंधिया राज्य के बहुत बड़े नेता हैं. उनकी किसी से प्रतिस्पर्धा नहीं है. ज्योतिरादित्य को ही तय करना होगा कि वो दिल्ली देखें या मध्य प्रदेश को.

मैं क्या बोलूं
ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा में जाने की अटकलों पर गोविंद राजपूत ने कहा कि मैं इस बारे कुछ नहीं कह सकता. सिंधिया देश के बड़े नेता हैं राहुल गांधी उन पर विश्वास करते है, ऐसा कुछ नहीं है. 

सिंधिया से मिले राजपूत​
इसी हफ्ते ज्योतिरादित्य सिंधिया महाकाल के दर्शन के लिए उज्जैन आए थे. उस दौरान ज्योतिरादित्य सिंधिया उनसे ख़फा दिखे थे. वो गोविंद राजपूत से मिले बिना ही लौट गए थे. पूरे दौरे के दौरान गोविंद राजपूत इंतज़ार करते रहे लेकिन ज्योतिरादित्य सिंधिया उनसे बात तक नहीं की थी. हालांकि परिवहन विभाग का अवॉर्ड लेने दिल्ली आए राजपूत को यहां सिंधिया ने वक़्त दे दिया और राजपूत उनसे मिलकर लौटे.

MOLITICS SURVEY

क्या संतोष गंगवार के बयान का असर महाराष्ट्र चुनाव में होगा ?

हाँ
  50%
नहीं
  50%
पता नहीं
  0%

TOTAL RESPONSES : 2

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know