बंजारा पुर्नवास पर बेनीवाल का महापड़ाव, सरकार को दी चेतावनी
Latest News
bookmarkBOOKMARK

बंजारा पुर्नवास पर बेनीवाल का महापड़ाव, सरकार को दी चेतावनी

By Aaj Tak calender  30-Aug-2019

बंजारा पुर्नवास पर बेनीवाल का महापड़ाव, सरकार को दी चेतावनी

राजस्थान के नागौर में महापड़ाव पर बैठे नागौर के सांसद हनुमान बेनीवाल ने ऐलान किया है कि जब तक सरकार उनकी मांगें नहीं मानती है तब तक वे धरना खत्म नहीं करेंगे. हनुमान बेनीवाल की मांग है कि बंजारा बस्ती को अतिक्रमण के नाम पर जहां से हटाया गया है वहां उनका पुनर्वास किया जाए, लेकिन बेनीवाल से वार्ता के लिए सरकार का कोई प्रतिनिधि नहीं पहुंचा है.
बेनीवाल ने कहा है कि वार्ता करने वाले अधिकारियों और सरकार के प्रतिनिधि से वे ठोस बातचीत करके ही उठेंगे, क्योंकि महापड़ाव से पहले कहा गया था कि अतिक्रमण हटाने वाले एसडीएम को हटाया जाएगा और मुकदमा दर्ज किया जाएगा लेकिन बाद में एसपी ने इनकार कर दिया है.
इस बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बेनीवाल के महापड़ाव से पहले ही ऐलान कर दिया है कि हाई कोर्ट के आदेश पर अतिक्रमण से हटाए गए बंजारा लोगों का पुनर्वास सरकार करेगी.
मंच से सरकार को चेतावनी
राजस्थान के नागौर में बंजारा बस्ती से अतिक्रमण हटाने के दौरान हुए हंगामे के खिलाफ हनुमान बेनीवाल ने पशु प्रदर्शनी मेले में विशाल महापड़ाव का आयोजन किया है. इसमें हजारों की संख्या में लोग हनुमान बेनीवाल के समर्थक महापड़ाव में पहुंचे हैं. इसमें खासकर बंजारा समाज के लोग मौजूद थे. महिलाओं की भी अच्छी खासी भीड़ देखने को मिली. आज के इस महापड़ाव में मंच के माध्यम से हनुमान बेनीवाल ने राजस्थान की सरकार को बार-बार ललकारा है और कहा कि जल्द से जल्द बंजारों के पुनर्वास की व्यवस्था करें नहीं तो सरकार की ईंट से ईंट बजा देंगे.
साथ ही नागौर की पूर्व सांसद ज्योति मिर्धा द्वारा सोशल मीडिया पर एक पोस्ट की गई थी जिसमें उन्होंने हनुमान बेनीवाल को कथित तौर पर उपद्रवी कहा था और उनके विधायकों को सरकार के काम में अड़ंगा लगाने वाले बताकर उन्माद फैलाने का आरोप लगाया था. जिस पर बेनीवाल ने मंच से कहा कि ज्योति मिर्धा केवल एसी के कमरे में बैठकर सोशल मीडिया पर लिखना जानती हैं, जमीन पर उतरकर लोगों के दुख दर्द को समझना उनके बस की बात नहीं है, अगर उनमें दम है तो वे फिर से मैदान में आएं और आगामी दिनों में होने वाले खींवसर विधानसभा के उपचुनाव में चुनाव लड़कर दिखाएं.

इमरान ने चला अब धार्मिक कार्ड, बोलें- मुसलमानों पर जुल्म होता है तो UN खामोश हो जाता है
बेनीवाल बोले- न्याय दिलाकर रहेंगे
हनुमान बेनीवाल ने बंजारा बस्ती के लोगों को न्याय दिलाने की बात कहते हुए कहा कि जब तक पूर्ण रूप से न्याय नहीं मिलेगा महापड़ाव जारी रहेगा और हर कीमत पर उन्हें न्याय दिलाकर रहेंगे. हनुमान बेनीवाल ने अपने बेबाक अंदाज में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को भी चेतावनी देते हुए कहा कि शीघ्र इस मामले पर कार्रवाई कर बंजारों के पुनर्वास की व्यवस्था करें नहीं तो सरकार को मामला भारी पड़ने पड़ेगा.
राजस्थान के नागौर में प्रशासन द्वारा हाईकोर्ट के आदेश की पालना में बंजारा बस्ती को अतिक्रमण मुक्त करवाना और उसके बाद मचे बवाल को देखकर ऐसा लगता है कि प्रशासन ने मधुमक्खियों के छत्ते में हाथ डाल दिया है. पिछले सप्ताह नागौर के ताऊसर गांव में हाईकोर्ट के आदेश के बाद पुलिस व प्रशासन ने भारी पुलिस जाप्ते की मौजूदगी में ताऊसर गांव में गौचर भूमि पर वर्षों से कब्जे सुदा बंजारा बस्ती के घरों को तोड़ा गया जो प्रशासन के अनुसार गोचर भूमि पर अतिक्रमण है. इस दौरान ही प्रशासन के साथ जेसीबी लेकर गए फारूक नाम के जेसीबी चालक पर बंजारा बस्ती के लोगों ने पथराव कर दिया जिसमें उसकी मौत हो गई थी, साथ ही एक और बच्चे की आज इलाज के दौरान मौत हो गई.

MOLITICS SURVEY

'ओला-ऊबर के कारण ऑटो सेक्टर में मंदी' - क्या निर्मला सीतारमण के इस बयान से आप सहमत है ?

हाँ
  20.75%
नहीं
  69.81%
कुछ कह नहीं सकते
  9.43%

TOTAL RESPONSES : 53

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know