वर्षों तक बच्‍चों को नहीं मिली कम्‍प्‍यूटर लैब, नंद घर में मिलेंगी सभी सुविधाएं : स्मृति ईरानी
Latest News
bookmarkBOOKMARK

वर्षों तक बच्‍चों को नहीं मिली कम्‍प्‍यूटर लैब, नंद घर में मिलेंगी सभी सुविधाएं : स्मृति ईरानी

By Jagran calender  28-Aug-2019

वर्षों तक बच्‍चों को नहीं मिली कम्‍प्‍यूटर लैब, नंद घर में मिलेंगी सभी सुविधाएं : स्मृति ईरानी

केंद्रीय महिला एवं बाल विकास व कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी एक दिवसीय दौरे पर आज (बुधवार को) अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी पहुंची। जहां उन्‍होंने गौरीगंज के दरपीपुर गांव में बने नंद घर का लोकार्पण कर सुविधाओं का निरीक्षण किया। उन्‍होंने कहा कि यहां के कार्यकर्ताओं ने सत्तारूढ़ पार्टियों से संघर्ष किया और अमेठी को विकास के लिए भाजपा का सांसद को लाया है। आज अमेठी विकास के रास्ते पर बढ़ रही है। प्रदेश की योगी सरकार का भी विकास कार्य में पूरा सहयोग मिला है। इस अमेठी में वर्षों तक बच्चों को कंप्यूटर लैब नहीं मिल सका, लेकिन अब उन्हें नंद घर में सभी सुविधाएं मिलेंगी। इस सभी विकास कार्यों के लिए योगी सरकार को धन्यवाद देती हूं। 
केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी विमान से लखनऊ पहुंची और वहां से हेलीकॉप्टर से जिले स्थित गौरीगंज में जवाहर नवोदय विद्यालय कैंपस के करीब बने हेलीपैड पर उतरीं। यहां गौरीगंज के दरपीपुर गांव में बने नंद घर का लोकार्पण कर सुविधाओं का निरीक्षण किया। इसके बाद गर्भवती महिलाओं गोद भराई की रस्म में शामिल हुईं।
पूर्व सांसद ने आधा भी काम किया होता तो आज अमेठी विकास में आगे होता: केशव प्रसाद 
प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा इससे पहले जो यहां सांसद थे वो गरीबों की बात करते थे, लेकिन अब जो सांसद है वो गरीबों के लिए काम करती है। उन्होंने  92 करोड़ के लागत की सात परियोजना की घोषणा की। जिसमें लोकनिर्माण विभाग की कई सड़कें शामिल है। उन्होंने कहा कि स्मृति ईरानी के सांसद बनने के बाद इतने कम समय मे जो विकास कार्य हुआ है उसका आधा भी अगर पूर्व के सांसद करते तो आज अमेठी विकास में बहुत आगे होता है। कार्यकर्ताओं का सम्मान हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता है। अमेठी में जब कमल खिल गया था मैं जान गया था कि कश्मीर से अब अनुच्छेद 370 समाप्त होगा। उन्होंने कहा कि अमेरिका में प्रधानमंत्री  मोदी जी का कार्यक्रम होता है तो सब जगह खिलखिलाहट होती है, लेकिन पाकिस्तान में मायूसी छा जाती है और वहां चिड़चिड़ाहट होती है। उन्होंने ने कहा कि केंद्रीय मंत्री दो कार्यक्रमों में एक अरब 44 करोड़ रुपये की परियोजनाओं पर काम किया है। मैं उनको बधाई देता हूं कि वह अमेठी के विकास के लिए लगातार प्रयासरत है।

MOLITICS SURVEY

'ओला-ऊबर के कारण ऑटो सेक्टर में मंदी' - क्या निर्मला सीतारमण के इस बयान से आप सहमत है ?

हाँ
  20.75%
नहीं
  69.81%
कुछ कह नहीं सकते
  9.43%

TOTAL RESPONSES : 53

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know