सात नए मेडिकल कॉलेजों के विद्यार्थियों से आज मुखातिब होंगे CM योगी आदित्यनाथ
Latest News
bookmarkBOOKMARK

सात नए मेडिकल कॉलेजों के विद्यार्थियों से आज मुखातिब होंगे CM योगी आदित्यनाथ

By Ndtv calender  28-Aug-2019

सात नए मेडिकल कॉलेजों के विद्यार्थियों से आज मुखातिब होंगे CM योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश में इसी साल से शुरू होने जा रहे सात नए मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस प्रथम वर्ष के विद्यार्थी बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने होंगे। बहराइच मेडिकल कॉलेज में होने वाले आयोजन में अयोध्या, बस्ती व बहराइच के विद्यार्थी मौजूद रहेंगे, जबकि फीरोजाबाद, शाहजहांपुर, बदायूं और ग्रेटर नोएडा के विद्यार्थी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मुख्यमंत्री से जुड़ेंगे।
आजादी के बाद यह पहली बार है कि जब प्रदेश को एक साथ सात मेडिकल कॉलेज मिलने जा रहे हैं। इसमें बहराइच, बस्ती, अयोध्या, शाहजहांपुर व फीरोजाबाद में स्वशासी पद्धति से जिला अस्पतालों को मेडिकल कॉलेज बनाया गया है, जबकि बदायूं में राजकीय मेडिकल कॉलेज और ग्रेटर नोएडा स्थिति राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान में भी इसी सत्र से एमबीबीएस की पढ़ाई शुरू कराई जा रही है। इस सभी सात कॉलेजों में एमबीबीएस की सौ-सौ सीटों पर पढ़ाई की अनुमति मिल गई है। इसमें अयोध्या का मेडिकल कॉलेज तैयार होने से यहां के निवासियों को जहां अब इलाज के लिए लखनऊ तक दौड़ नहीं लगानी होगी, वहीं बस्ती में भी मेडिकल कॉलेज बनने से लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा मिल सकेगी।
 
ग्रेटर नोएडा स्थित राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान को पीजीआइ की तर्ज पर पश्चिमी उप्र में स्थापित किया गया है। सोसायटी के तौर पर पंजीकृत इस संस्थान में 300 बेड का अस्पताल है और प्रतिदिन यहां औसतन डेढ़ से दो हजार तक मरीज आते हैं। इसके अलावा बदायूं, शाहजहांपुर, फीरोजाबाद, बहराइच में भी मेडिकल कॉलेज शुरू होने से विद्यार्थियों के साथ नागरिकों को भी लाभ मिलेगा।
 
चिकित्सा शिक्षा महानिदेशक डॉ.केके गुप्ता ने बताया कि वर्ष 1947 से 2014 तक प्रदेश में केवल 13 मेडिकल कॉलेज बने थे, जबकि अब एक साथ सात मेडिकल कॉलेज शुरू करने के साथ ही फेस-2 के तहत दूसरे चरण के लिए आठ और मेडिकल कॉलेजों की तैयारी शुरू हो गई है। इसके तहत देवरिया, सिद्धार्थनगर, मीरजापुर, फतेहपुर, एटा, हरदोई, प्रतापगढ़ व गाजीपुर में मेडिकल कॉलेज प्रस्तावित हैैं। इन कॉलेजों को अगले साल तक काम पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं।
Violence in Kashmir because of Pak-sponsored terrorism: Rahul Gandhi
 

MOLITICS SURVEY

क्या संतोष गंगवार के बयान का असर महाराष्ट्र चुनाव में होगा ?

TOTAL RESPONSES :

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know