रांची : रामेश्वर उरांव को प्रदेश कांग्रेस की कमान, पांच कार्यकारी अध्यक्ष भी मनोनीत किये गये
Latest News
bookmarkBOOKMARK

रांची : रामेश्वर उरांव को प्रदेश कांग्रेस की कमान, पांच कार्यकारी अध्यक्ष भी मनोनीत किये गये

By Prabhatkhabar calender  28-Aug-2019

रांची : रामेश्वर उरांव को प्रदेश कांग्रेस की कमान, पांच कार्यकारी अध्यक्ष भी मनोनीत किये गये

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने डॉ रामेश्वर उरांव को झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष बनाया है. पांच कार्यकारी अध्यक्ष भी मनोनीत किये गये हैं. 
इसमें पूर्व विधायक केशव महतो कमलेश, विधायक इरफान अंसारी, राजेश ठाकुर, मानस सिन्हा व संजय पासवान शामिल हैं. सोमवार को राष्ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल ने पत्र जारी किया है. लगातार दूसरी बार प्रदेश कांग्रेस की कमान पूर्व आइपीएस को सौंपी गयी है.  
श्री उरांव से पहले पूर्व आइपीएस अधिकारी डॉ अजय कुमार को प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष बनाया गया था.   नौ अगस्त को डॉ अजय कुमार ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं पर आरोप लगाते हुए प्रदेश अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद से नये प्रदेश अध्यक्ष को लेकर पार्टी के शीर्ष नेतृत्व में मंथन चल रहा था.
 
केंद्र में मंत्री भी रह चुके हैं उरांव
 
डॉ रामेश्वर उरांव मनमोहन सिंह सरकार (2004-09) में मंत्री भी रह चुके हैं. डॉ उरांव का जन्म 14 फरवरी 1947 को चियांकी (पलामू) में हुआ था. वे 1972 बैच के आइपीएस अधिकारी रहे हैं. इन्होंने रांची विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में पीएचडी की उपाधि हासिल की थी. 
 
सात अप्रैल 2008 को रामेश्वर उरांव ने मनमोहन सिंह सरकार में आदिवासी मामलों के मंत्री के रूप में शपथ ली थी. इसके बाद वे राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग के चेयरमैन बने थे. 2009 में भाजपा के सुदर्शन भगत ने उन्हें हरा कर लोहरदगा लोकसभा सीट छीन ली थी. ‌2014 में भी रामेश्वर उरांव को सुदर्शन भगत से हार का सामना करना पड़ा था.
 
विस चुनाव को लेकर कांग्रेस ने बनायी स्क्रीनिंग कमेटी
 
अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने झारखंड में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर स्क्रीनिंग कमेटी का गठन किया है. छह सदस्यीय कमेटी में टीएस सिंह देव को चेयरमैन बनाया गया है. श्री देव छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य व पंचायत मंत्री हैं. वे झारखंड से सटे सरगुजा संभाग से आते हैं और राजपरिवार से जुड़े हैं.
फिलहाल अंबिकापुर के विधायक हैं.  2013 से 2018 तक छत्तीसगढ़ विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष थे. इन्हें पिछले चुनाव में ओड़िशा चुनाव की जिम्मेवारी मिली थी. स्क्रीनिंग कमेटी में सांसद कोड्डीकुनिली सुरेश व एआइसीसी के सचिव सलीम अहमद को सदस्य बनाया गया है. इनके अलावा कमेटी में झारखंड प्रभारी आरपीएन सिंह, नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव व विधायक दल के नेता आलमगीर आलम को रखा गया है.

MOLITICS SURVEY

क्या संतोष गंगवार के बयान का असर महाराष्ट्र चुनाव में होगा ?

हाँ
  50%
नहीं
  50%
पता नहीं
  0%

TOTAL RESPONSES : 2

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know