मथुरा में दो दिन रहेंगी राज्यपाल आनंदी बेन, जानिए क्‍या रहेगा कार्यक्रम
Latest News
bookmarkBOOKMARK

मथुरा में दो दिन रहेंगी राज्यपाल आनंदी बेन, जानिए क्‍या रहेगा कार्यक्रम

By Jagran calender  27-Aug-2019

मथुरा में दो दिन रहेंगी राज्यपाल आनंदी बेन, जानिए क्‍या रहेगा कार्यक्रम

राज्यपाल मथुरा में दो दिन रहेंगी। उनका कार्यक्रम लगभग तय हो चुका है। सोमवार को सुरक्षाकर्मियों ने पंडित दीन दयाल उपाध्याय पशु चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय एवं गो अनुसंधान संस्थान में डेरा डाल लिया है।
सभी संपत्ति वैध, आरोप गलत: चिदंबरम
पंडित दीन दयाल उपाध्याय पशु चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय एवं गो अनुसंधान संस्थान का 28 अगस्त को 9 वां दीक्षांंत समारोह होने जा रहा है। राज्यपाल आनंदी बेन इसमें शामिल होने के लिए 27 अगस्त की शाम को 9.45 बजे वेटरिनरी यूनिवर्सिटी के गेस्ट हाउस पहुंच जाएंगी। यहीं रात्रि विश्राम करेंगी। अगले दिन बुधवार को सुबह साढ़े आठ बजे राज्यपाल वृंदावन में ठाकुर बांके बिहारीजी मंदिर दर्शन करने के लिए जाएंगे। 8.55 बजे से 9.10 बजे तक मंदिर को उनके लिए आरक्षित कर दिया गया है। इसके बाद वह 9.30 बजे श्रीकृष्ण जन्मभूमि पहुंचेंगी और यहां दर्शन करने बाद 9.55 बजे वेटरिनरी यूनिवर्सिटी के प्रस्थान करेंगी। 10.40 बजे वह पंडित दीनदयाल पशु चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय एवं गो अनुसंधान संस्थान के दीक्षांत समारोह में भाग लेंगी। राज्यपाल की सुरक्षा में तैनात सुरक्षाकर्मियों की टीम दोपहर बाद वेटरिनरी कॉलेज पहुंच गई। टीम ने बांके बिहारी मंदिर और श्रीकृष्ण जन्मस्थान पर भी पहुंच कर सुरक्षा व्यवस्था का प्‍लानिंग की। स्थानीय पुलिस प्रशासन भी उनकी सुरक्षा के लिए पुख्ता प्रबंध कर रहा है। यात्रा का रूट प्लान भी बना लिया गया है। वह राजभवन से सड़क मार्ग से मथुरा आएंगी। वेटरिनरी यूनिवर्सिटी से वृंदावन और श्रीकृष्ण जन्मभूमि भी सड़क मार्ग से जाएंगी। सिटी मजिस्ट्रेट मनोज कुमार सिंह ने बताया कि राज्यपाल का कार्यक्रम फाइनल हो गया है और वह मंगलवार की शाम को आ रही हैं।
94 छात्रों को मिलेंगी उपाधियां
दीक्षा समारोह की जानकारी देते हुए कुलपति डॉ. जीके सिंह ने बताया कि स्नातक, स्नातकोत्तर और पीएचडी की 94 उपाधि राज्यपाल आनंदी बेन देंगी। पशु चिकित्सा विज्ञान के आठ और जैव विज्ञान विश्वविद्यालय के चार को पीएचडी की उपाधि दी जाएगी। चार गोल्ड, तीन सिल्वर और दो कांस्य पदक भी दिए जा रहे हैं। सोसाइटीज एवं मैमोरियल समेत कुल पंद्रह पदक दिए जाएंगे। पदक पाने में 11 छात्राएं, जबकि चार छात्र हैं। 62 छात्र और 32 छात्राओं को डिग्री प्रदान की जाएगी। कुलपति ने बताया कि प्रगतिशील किसानों के अलावा यूनिवर्सिटी कैंपस के प्राथमिक विद्यालय के 25 छात्रों को भी दीक्षा समारोह में बुलाया गया है। राजिस्टर प्रोफेसर पंकज शुक्ला भी मौजूद रहे।
नहीं लेंगी पुष्पगुच्छ
कार्यक्रम को लेकर राज्यपाल ने कुलपति को दिशा निर्देश भी दिए हैं कि उनके स्वागत में पुष्पगुच्छ न दिए जाएं। उनके स्थान पर फल की टोकरी दी जाए, जो आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को दे जाएगी। वह इसे बच्चों को वितरित कर देंगी। रेड कारपेट भी नहीं बिछाया जाएगा।
जैव प्रयोगशाला का करेंगी उद्घाटन
ढाई सौ करोड़ रुपये की लागत से वेटरिनरी यूनिवर्सिटी में जैव जलवायु प्रयोगशाला भी स्थापित की गई है। इसका नाम यूनिवर्सिटी के पूर्व डॉ. एमडी पांडेय के नाम पर रखा गया है। इसमें जलवायु परिवर्तन का पशुओं के जीवन और पशुपालन पर पड़ रहे प्रभाव का अध्ययन किया जाएगा।
खुलेगा मत्स्य विज्ञान विश्वविद्यालय
कुलपति ने बताया कि वेटरिनरी यूनिवर्सिटी में निकट भविष्य में मत्स्य विज्ञान विश्व विद्यालय भी खुलने के लिए जा रहा है। इसकी स्वीकृति शासन से प्राप्त हो चुकी है। शैक्षणिक और गैर शैक्षणिक पदों की नियुक्ति के लिए अभी मंजूरी नहीं मिल पाई है।

MOLITICS SURVEY

क्या संतोष गंगवार के बयान का असर महाराष्ट्र चुनाव में होगा ?

TOTAL RESPONSES : 2

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know