किसी की मां ने दूध नहीं पिलाया जो हमारा टिकट काट दे: BJP सासंद साक्षी महाराज
Latest News
bookmarkBOOKMARK

किसी की मां ने दूध नहीं पिलाया जो हमारा टिकट काट दे: BJP सासंद साक्षी महाराज

By News18 calender  26-Aug-2019

किसी की मां ने दूध नहीं पिलाया जो हमारा टिकट काट दे: BJP सासंद साक्षी महाराज

उन्नाव से बीजेपी सांसद साक्षी महाराज (BJP MP Sakshi Maharaj) ने एक बार फिर से विवादित बयान देकर सियासी माहौल गर्मा दिया है. रविवार को महारानी अवंतीबाई सम्मेलन में शामिल होने फर्रुखाबाद पहुंचे बीजेपी सांसद ने कहा कि कुछ लोगों ने लोकसभा चुनाव में उनका टिकट कटवाने की कोशिश की थी और वो लोग समझ रहे थे कि मेरा टिकट कट जाएगा, लेकिन मैंने कहा कि किसी की मां ने दूध नहीं पिलाया कि मेरा टिकट काट दे. बीजेपी सांसद ने कहा कि जब उनका टिकट नहीं कटा तो तो उनके ही कुछ लोगों ने उन्‍हें हराने का प्रयास किया था, लेकिन जनता ने उन्‍हें फिर से सांसद बनाकर दिल्ली भेजा.
करप्‍शन पर सरकार की मार, CBIC के 22 अफसरों को जबरन किया रिटायर

'हमारे धैर्य की परीक्षा न ली जाए'

सम्मेलन को संबोधित करते हुए साक्षी महाराज ने कहा कि उनके धैर्य की परीक्षा न ली जाए. वर्ष 1998 के चुनाव की याद दिलाते हुए उन्होंने कहा, 'जब मैं यहां से चुनाव लड़ा था तो नारा लगा था 'लाल किले पर कमल निशान, अबकी जीतेंगे सलमान'. यह नारा गली-गली में गूंजा था. लेकिन, आपकी (जनता) बदौलत टिकट मिला और चुनाव जीता भी.' साक्षी महाराज ने अयोध्या कांड का जिक्र करते हुए कहा कि स्वाभिमान के लिए ही तत्कालीन मुख्यमंत्री कल्याण सिंह ने कुर्सी छोड़ी थी.

'मुस्लिमों ने किया आर्टिकल 370 हटाने का स्वागत'
बीजेपी सांसद ने कहा कि आज समाज में कुछ दर्द हैं, जिन्हें दूर करने की जरूरत हैं. साक्षी महाराज ने इस मौके पर कहा कि बीजेपी ही एक ऐसी सरकार है जो शहीदों के सपनों को पूरा कर रही है. बकौल बीजेपी सांसद, आर्टिकल 370 हटाने के बाद लगा कि देश पूरी तौर पर आजाद हो गया है. उन्‍होंने कहा, 'फारुख अब्दुल्ला कह रहे थे कि किसी की ताकत नहीं है जो इसे (आर्टिकल 370) हटा दे. कश्मीर में 370 हटने के बाद हिन्‍दुस्‍तान में कहीं पर पत्ता भी नहीं हिला. मुसलमान खुद अनुच्‍छेद 370, 35ए और तीन तलाक से परेशान थे, इसीलिए मुस्लिमों ने भी इसका स्वागत किया है.'

MOLITICS SURVEY

क्या संतोष गंगवार के बयान का असर महाराष्ट्र चुनाव में होगा ?

हाँ
  50%
नहीं
  50%
पता नहीं
  0%

TOTAL RESPONSES : 2

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know