कांग्रेस के सद्भावना दिवस पर धर्म गुरुओं ने करायी प्रार्थना, कहा- देश को गलत हाथों से निकालो
Latest News
bookmarkBOOKMARK

कांग्रेस के सद्भावना दिवस पर धर्म गुरुओं ने करायी प्रार्थना, कहा- देश को गलत हाथों से निकालो

By Prabhatkhabar calender  21-Aug-2019

कांग्रेस के सद्भावना दिवस पर धर्म गुरुओं ने करायी प्रार्थना, कहा- देश को गलत हाथों से निकालो

देश को गलत हाथों से निकालें, कांग्रेस व गांधी परिवार देश को संभालें. कांग्रेस पार्टी से ही गरीबों का कल्याण होगा. पॉस्टर ग्रुप जयमन तिर्की ने राजधानी  के  डिबडीह स्थित सेलिब्रेशन बैंक्वेट हॉल में मंगलवार को ऐसी ही प्रार्थना  करायी. दरअसल, भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 75वीं जयंती (सद्भावना दिवस) पर प्रदेश कांग्रेस की ओर से सेमिनार आयोजित किया गया था. झारखंड सिटिजन काउंसिल की ओर से स‌र्वधर्म प्रार्थना सभा भी हुई. 
इसमें सभी धर्मों की ओर  अलग-अलग प्रार्थना की गयी. कार्यक्रम में उपस्थित हाजी मंजूर अहमद अंसारी व उनके  सहयोगियों ने  मुस्लिम धर्मावलंबियों की ओर से प्रार्थना की. इसमें  भी कहा गया कि परमात्मा वर्तमान सरकार से निजात दिलाये. कांग्रेस पार्टी  की सरकार देश में लाये. गरीबों के कल्याण को लेकर राजीव गांधी के सपने को  साकार कराये.
परमात्मा कांग्रेस के नेता व कार्यकर्ता को आगे बढ़ने की ताकत  दे. साथ ही हिंदू-मुस्लिम की एकता को बनाये रखे. इस दौरान कांग्रेस प्रभारी सह पूर्व केंद्रीय मंत्री आरपीएन सिंह, कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम, पूर्व  केंद्रीय  मंत्री सुबोधकांत सहाय, रामेश्वर उरांव, फुरकान अंसारी, मन्नान  मल्लिक,  सरफराज अहमद, प्रदीप बलमुचु, मंजूर अहमद अंसारी, विधायक सुखदेव  भगत, इरफान  अंसारी, नमन विक्सल  कोंगाड़ी, बन्ना गुप्ता समेत पार्टी के कई  पदाधिकारी व  विभिन्न संगठनों से जुड़े लोग मौजूद रहे. 
शहर में कई कार्यक्रम आयोजित : पूर्व  प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 75वीं जयंती मंगलवार को प्रदेश कांग्रेस की ओर  से धूमधाम से मनायी गयी. शहर में कई कार्यक्रम आयोजित किये गये. सद्भभावना  दौड़, सद्भभावना यात्रा, श्रद्धांजलि सभा के साथ-साथ सेमिनार व भजन संध्या का आयोजन किया गया.
तीन घंटे तक प्रार्थना और भजन कार्यक्रम
लगभग तीन घंटे तक चले कार्यक्रम में सरना समाज, सिख समाज व हिंदू समाज की ओर से  राजीव गांधी की याद में प्रार्थना की गयी. सिख समाज की ओर से  गुरुवाणी  प्रस्तुत की गयी. हिंदू समाज की ओर से रामदेव पांडेय ने भजन  'रघुपति राघव  राजा राम...' की प्रस्तुति दी. सरना समाज की ओर से कुड़ुख  भाषा में  प्रार्थना की गयी. वहीं, कार्यक्रम में मौजूद कांग्रेस के दिग्गज  नेताओं  ने 'राजीव गांधी के आधुनिक भारत में योगदान' विषय पर अपनी बातें  रखी.
 

MOLITICS SURVEY

महाराष्ट्र में अगर शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के गठबंधन की सरकार बनती है तो क्या उसका हाल भी कर्नाटक जैसा होगा ?

TOTAL RESPONSES : 22

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know