Ayushman Bharat: झारखंड सरकार का बड़ा अभियान, 2.26 करोड़ गोल्डन कार्ड मुफ्त बनाए जाएंगे
Latest News
bookmarkBOOKMARK

Ayushman Bharat: झारखंड सरकार का बड़ा अभियान, 2.26 करोड़ गोल्डन कार्ड मुफ्त बनाए जाएंगे

By Jagran calender  15-Aug-2019

Ayushman Bharat: झारखंड सरकार का बड़ा अभियान, 2.26 करोड़ गोल्डन कार्ड मुफ्त बनाए जाएंगे

आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत 2.26 करोड़ लाभुकों को गोल्डन कार्ड उपलब्ध कराने के लिए शुक्रवार से अभियान शुरू होगा। मुख्यमंत्री रघुवर दास रांची के एदलहातू में आयोजित एक कार्यक्रम में इसका शुभारंभ करेंगे। मुख्यमंत्री इस अवसर पर अटल मुहल्ला क्लिनिक का भी शुभारंभ करेंगे। राज्य भर में ऐसी 25 मुहल्ला क्लिनिक खुल रही हैं। गोल्डन कार्ड बनाने के लिए 16 अगस्त से 25 सितंबर तक चलाए जानेवाले इस अभियान के तहत प्रज्ञा केंद्रों में ये कार्ड निश्शुल्क बनेंगे।
अभी तक सूचीबद्ध अस्पतालों में तो गोल्डन कार्ड निश्शुल्क बनते थे, लेकिन प्रज्ञा केंद्रों पर इसे बनाने के लिए लाभुकों को प्रति कार्ड 30 रुपये देने पड़ते थे। अब राज्य सरकार इसके लिए प्रति कार्ड 23.60 रुपये (जीएसटी स्वयं) स्वयं वहन करेगी। इसके लिए मनोनयन के आधार पर भारत सरकार की संस्था सीएससी ई-गवर्नेंस सर्विस इंडिया लिमिटेड का चयन किया गया है। बता दें कि इस योजना का लाभ 57 लाख परिवारों के 2.73 करोड़ लाभुकों को मिलना है। लेकिन अभी तक महज 37 लाख लाभुकों के ही कार्ड बन सके हैं। गोल्डन कार्ड नहीं होने के कारण कई बार अस्पतालों द्वारा आयुष्मान के मरीजों से इलाज की राशि वसूलने के मामले सामने आते रहते थे।
सीएम ने हेमंत सहित सभी विधायकों को लिखा पत्र
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने इस अभियान को सफल बनाने के लिए नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन सहित सभी विधायकों को पत्र लिखा है। उन्होंने अभियान के दौरान अपने-अपने क्षेत्र के सभी लाभुकों का गोल्डन कार्ड बनवाने में उन्हें सहयोग करने की अपील की है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा मुख्यमंत्री के हस्ताक्षरयुक्त पत्र भेजे जा रहे हैं।
15 हजार आबादी को कवर करेगी एक मुहल्ला क्लिनिक
प्रत्येक अटल मुहल्ला क्लिनिक 15 हजार आबादी को कवर करेगी। इनमें टीकाकरण के अलावा एनीमिया, टीबी, मलेरिया, उच्च रक्तचाप, मधुमेह की जांच की व्यवस्था उपलब्ध रहेगी। साथ ही तीन प्रकार के कैंसर मुंह, स्तन तथा गले के कैंसर की स्क्रीनिंग की जाएगी। इसमें प्रसव पूर्व तथा प्रसव के बाद देखभाल की भी व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। राज्य सरकार ने 25 मुहल्ला क्लिनिक के लिए पांच करोड़ रुपये की स्वीकृति दी है।

MOLITICS SURVEY

क्या आरक्षण पर मोहन भागवत के बयान से चुनावों में बीजेपी को नुकसान होगा?

TOTAL RESPONSES : 29

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know