कश्मीर: बौखलाए पाक ने भारत के विमानों का रास्ता भी रोका
Latest News
bookmarkBOOKMARK

कश्मीर: बौखलाए पाक ने भारत के विमानों का रास्ता भी रोका

By Tv9bharatvarsh calender  08-Aug-2019

कश्मीर: बौखलाए पाक ने भारत के विमानों का रास्ता भी रोका

 संविधान के अनुच्‍छेद 370 के प्रावधानों को हटाने के बाद पाकिस्‍तान बौखलाया हुआ है. जम्‍मू-कश्‍मीर राज्‍य के पुनर्गठन से घबराए पाकिस्‍तान ने भारत के साथ द्विपक्षीय व्‍यापार रोक दिया है. हालांकि इस कदम से उसी को नुकसान होने की बात एक्‍सपर्ट्स कह रहे हैं. पड़ोसी मुल्‍क ने हवाई उड़ानों के रूट (Aerial routes) बदल दिए हैं. विदेशी विमानों को कम ऊंचाई पर उड़ने से मना किया गया है. पाकिस्‍तानी हवाई क्षेत्र के एक कॉरिडोर को भी बंद कर दिया गया है.
पाकिस्तान सिविल एविएशन अथॉरिटी (PCAA) ने सभी एयरलाइंस के Aerial routes बदले हैं. लाहौर इलाके की एयरलाइंस को खास निर्देश जारी किए गए हैं. यहां पर विदेशी विमानों को 46 हजार फीट से ज्‍यादा ऊंचाई पर उड़ान भरनी होगी. इससे नीचे उड़ाने भरने पर पाक ने पाबंदी लगा दी है. अफगानिस्‍तान की उड़ानों को PCAA से ऑप्‍शनल रूट्स लेने को कहा गया है.
जम्मू कश्मीर से Article 370 हटते ही इस बड़ी कंपनी ने पेश किया फैक्ट्री लगाने का प्रस्ताव
प्रधानमंत्री इमरान खान की अध्‍यक्षता में पाकिस्‍तान की राष्ट्रीय सुरक्षा समिति (NSC) की बैठक हुई. NSC ने भारत संग कूटनीतिक संबंध डाउनग्रेड करने, द्विपक्षीय व्यापार निलंबित करने, द्विपक्षीय व्यवस्थाओं की समीक्षा करने, मामले को संयुक्त राष्ट्र ले जाने और 14 अगस्त को पाकिस्तान का स्वतंत्रता दिवस कश्मीरियों के साथ एकजुटता जताने के लिए मनाने के निर्णय लिए हैं.
बैठक में रक्षामंत्री परवेज खट्टक, विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी, जॉइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ कमेटी के जनरल जुबैर हयात, सेना प्रमुख जनरल कमर बाजवा, नौसेना प्रमुख एडमिरल जफर महमूद अब्बासी, चीफ ऑफ एयर स्टाफ एयर मार्शल मुजाहिद अनवर खान, आईएसआई के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद और अन्य अधिकारियों ने हिस्सा लिया.
एक संयुक्त संसदीय सत्र में नई दिल्ली के एकतरफा कदम की निंदा करने का एक प्रस्ताव भी पारित किया गया. प्रस्ताव को कश्मीर कमेटी के चेयरमैन सैयद फखर इमाम ने पेश किया और उसे सर्वसम्मति से पारित कर दिया गया. प्रस्ताव में इस मामले को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के संज्ञान में और संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के संज्ञान में ले जाने का भी आह्वान किया गया है, ताकि एक जांच आयोग गठित किया जा सके.

MOLITICS SURVEY

क्या आरक्षण पर मोहन भागवत के बयान से चुनावों में बीजेपी को नुकसान होगा?

TOTAL RESPONSES : 27

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know