पूरे दिन विधानसभा में रहे, शाम को BJP में शामिल हो गए चार और विधायक
Latest News
bookmarkBOOKMARK

पूरे दिन विधानसभा में रहे, शाम को BJP में शामिल हो गए चार और विधायक

By Jagran calender  07-Aug-2019

पूरे दिन विधानसभा में रहे, शाम को BJP में शामिल हो गए चार और विधायक

मुट्ठीभर बीज बिखेरे थे हमने, सामने बैठे कुछ लोगों में अपनापन आया और कुछ में अपनापन आ जाएगा।' यह शेर सुनाने के बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने विधानसभा की कार्यवाही खत्म होते ही चार और विधायकों को भाजपा में शामिल करा लिया। इनमें पृथला से बसपा विधायक टेकचंद शर्मा, फरीदाबाद एनआइटी के इनेलो विधायक नगेंद्र भड़ाना, सिरसा के इनेलो विधायक मक्खन लाल सिंगला और समालखा के आजाद विधायक रवींद्र मछरौली शामिल हैं।
इन चारों विधायकों ने सुबह विधानसभा की कार्यवाही में हिस्सा लिया और अपने-अपने विधानसभा क्षेत्रों की समस्याएं भी उठाई। सदन की कार्यवाही खत्म होते ही चारों विधायक भाजपा में शामिल हो गए। चंडीगढ़ स्थित भाजपा कार्यालय में मुख्यमंत्री मनोहर लाल और प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला ने इन्हें पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराई। अब तक 13 विधायक भाजपा में शामिल हो चुके हैं। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अपनी सरकार के कार्यकाल पर संतुष्टि जाहिर करते हुए कहा कि इसकी बदौलत ही दूसरे दलों के लोग और विधायक भाजपा से जुड़ रहे हैं। अभय सिंह चौटाला के साथ अब मात्र दो विधायक ओमप्रकाश बड़वा और वेद नारंग रह गए हैं।
नगेंद्र भड़ाना इनेलो के टिकट पर चुनाव जीतने के बाद से भाजपा को समर्थन दे रहे थे। आजाद विधायक रवींद्र मछरौली ने भी सदन में भाजपा सरकार को समर्थन दे रखा था। बसपा विधायक टेकचंद शर्मा भी पहले दिन से भाजपा के साथ हैं। उन्होंने विधानसभा चुनाव में भाजपा उम्मीदवार नयनपाल रावत को 1179 मतों से पराजित किया था। घरौंडा के भाजपा विधायक हरविंद्र कल्याण ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल से उनकी मुलाकात कराई थी।
पृथला से टिकट को लेकर अब भाजपा के पुराने वफादार नयनपाल रावत और टेकचंद शर्मा के बीच विवाद गहराने की आशंका से इन्कार नहीं किया जा सकता। नयनपाल रावत की गिनती मुख्यमंत्री मनोहर लाल और केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर के वफादारों में होती है। नयनपाल पृथला हलके में कई बड़े आयोजन और रैलियां कराकर सरकार की दमदार उपस्थिति दर्ज करा चुके हैैं।

MOLITICS SURVEY

क्या आरक्षण पर मोहन भागवत के बयान से चुनावों में बीजेपी को नुकसान होगा?

TOTAL RESPONSES : 30

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know