राज्यसभा में राजस्थान से प्रियंका गांधी को लाने की तैयारी !
Latest News
bookmarkBOOKMARK

राज्यसभा में राजस्थान से प्रियंका गांधी को लाने की तैयारी !

By Khas Khabar calender  03-Aug-2019

राज्यसभा में राजस्थान से प्रियंका गांधी को लाने की तैयारी !

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद पर प्रियंका गांधी को पूर्णकालीन अध्यक्ष अथवा कार्यकारी अध्यक्ष बनाने की चर्चाओं के बीच कांग्रेस के दिग्गज मान रहे हैं कि उन्हें यह जिम्मेदारी दिए जाने के साथ संसद में पहुंचाया जाना भी जरूरी है इसके लिए उन्हें राजस्थान में होने वाले राज्यसभा उपचुनाव के जरिए उच्च सदन में पहुंचाया जाना निश्चित किया जा रहा है ।

प्राप्त जानकारी के अनुसार राजस्थान में राज्यसभा उपचुनाव भाजपा नेता मदन लाल सैनी के आकस्मिक निधन के कारण रिक्त हुई सीट पर होना है जिसकी अधिसूचना जारी हो चुकी है । उपचुनाव में यह सीट कांग्रेस की झोली में आना तय है क्योंकि 200 सदस्यों वाले सदन में वर्तमान में 198 सदस्य हैं कांग्रेस के पास 100 सदस्य है तथा एक लोक दल, 11 निर्दलीय सदस्यों के समर्थन के साथ बसपा के 6 सदस्यों का समर्थन भी है, इस तरह उपचुनाव में यह सीट कांग्रेस की तय है।

कांग्रेस के विश्वस्त सूत्रों के अनुसार पूर्व में इस सीट के लिए पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह का नाम माना जा रहा था उनकी राज्यसभा सदस्यता 2 माह पूर्व ही समाप्त हुई थी परंतु उनका असम से दोबारा चुना जाना संभव नहीं रहा ,बाद में उन्हें तमिलनाडु से लाने की बात चली परंतु वह बात भी नहीं बनी। इस बीच राजस्थान में यह सीट रिक्त होने के बाद डॉ मनमोहन सिंह का नाम राजस्थान से लिया जाने लगा, राजस्थान के कई नेताओं ने उनसे मुलाकात करते हुए इस संदर्भ में बातचीत भी की परंतु कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद बदले घटनाक्रम में जिस तरह प्रियंका गांधी का नाम पार्टी नेतृत्व के लिए उभरा है उससे सारी गणित ही बदलती दिख रही है जानकारों की मानें तो डॉ मनमोहन सिंह ने कहा बताया कि उनके नाम के स्थान पर प्रियंका गांधी के नाम पर विचार किया जा रहा है तो उनके लिए इससे बेहतर खुशी की बात नहीं हो सकती।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी का मसला पूरी तरह आलाकमान पर छोड़ चुके हैं वह कह गए हैं कि पार्टी जिसे भेजेगी उसे वे भारी अंतर से जीता कर भेज देंगे मुख्यमंत्री के द्वारा गत दिनों जयपुर में सभी विधायकों को दिए गए रात्रि भोज को प्रियंका गांधी के आने की रणनीति का हिस्सा माना जा रहा है ।

बहरहाल यह सारा मसला उनके द्वारा पार्टी अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी संभालने से जुड़ा है यदि वे अध्यक्ष बनती है तो उनके पद की गरिमा के अनुरूप उन्हें संसद में लाया जाएगा। नाम उजागर नहीं किए जाने की शर्त पर एक बड़े नेता ने स्वीकारा कि की प्रियंका गांधी के अध्यक्ष बनने की चर्चा मात्र से कांग्रेस में नीचे तक हलचल हो गई है इसलिए यह होना तय है ।
 

MOLITICS SURVEY

क्या आरक्षण पर मोहन भागवत के बयान से चुनावों में बीजेपी को नुकसान होगा?

TOTAL RESPONSES : 11

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know