हेमंत सोरेन ने खुली चिट्ठी लिखकर सीएम रघुवर दास से पूछा, ये कैसा विकास कि लोग कर रहे हैं आत्महत्या
Latest News
bookmarkBOOKMARK

हेमंत सोरेन ने खुली चिट्ठी लिखकर सीएम रघुवर दास से पूछा, ये कैसा विकास कि लोग कर रहे हैं आत्महत्या

By News18 calender  02-Aug-2019

हेमंत सोरेन ने खुली चिट्ठी लिखकर सीएम रघुवर दास से पूछा, ये कैसा विकास कि लोग कर रहे हैं आत्महत्या

नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने किसान लखन महतो की मौत पर सीएम रघुवर दास को खुला पत्र लिखा है. उन्होंने लिखा कि लखन महतो की मौत दर्दनाक और हृदयविदारक है. रांची के पतरातु पंचायत के 18 मरनेगा लाभुकों में से एक लखन महतो भी थे. इससे राज्य के अन्य प्रखंडों की स्थिति समझी जा सकती है. न जाने कितने लखन जिंदगी और मौत से जद्दोजहद कर रहे होंगे. राज्य की जनता को डबल इंजन की सरकार से लाभ पहुंचाने का जो दावा आप करते हैं, उसका असली चेहरा अब आपके सामने है.
सीएम के नाम हेमंत की खुली चिट्ठी
हेमंत सोरेन आगे लिखते हैं कि इसके लिए आप किसको जिम्मेवार ठहराएंगे. अधिकारी, आपकी नीतियां या आप स्वयं. मनरेगा में भ्रष्टाचार से पूरे राज्य के लाभुक त्रस्त हैं. लखन महतो के परिवार को बकाये का भुगतान हो और मुआवजे भी मिले. उनकी मां को वृद्धा पेंशन भी नहीं मिल रही है. लखन के लिए मनरेगा का कुआं वरदान नहीं, अभिशाप साबित हुआ. एक तरफ कर्ज का दबाव, दूसरी तरफ रोजी- रोटी की चिंता. जिंदगी से निराश होकर उन्होंने जान दे दी. क्या यही विकास है कि लोग आत्महत्या को मजबूर हो रहे हैं. चान्हो प्रखंड में 25 मनरेगा लाभुक हैं, जिनका 45 करोड़ रुपया बकाया है.
हेमंत सोरेन ने पीड़ित परिवार से की थी मुलाकात 
बीते मंगलवार को नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन ने रांची के चान्हो में किसान लखन महतो के परिजनों से मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने कहा कि सिस्टम ने लखन महतो को मरने पर मजबूर कर दिया. उन्होंने मौके से रांची के डीसी राय महिमापत रे से बात की थी. गांववालों ने हेमन्त सोरेन को जानकारी दी कि बीडीओ संतोष कुमार भुगतान के बदले उनसे कमीशन की मांग करते हैं. पूर्व सीएम ने डीसी से तत्काल बीडीओ को हटाने की मांग की. साथ ही सरकार से लखन महतो की पत्नी को सरकारी नौकरी और दस लाख रुपये मुआवजा देने की भी अपील की.

MOLITICS SURVEY

अयोध्या में विवादित जगह पर क्या बनना चाहिए ??

TOTAL RESPONSES : 8

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know