पशुपालन विभाग में अधिक खर्च पर चारा घोटाले का नाम लिया, तो राजद का हंगामा
Latest News
bookmarkBOOKMARK

पशुपालन विभाग में अधिक खर्च पर चारा घोटाले का नाम लिया, तो राजद का हंगामा

By Prabhatkhabar calender  25-Jul-2019

पशुपालन विभाग में अधिक खर्च पर चारा घोटाले का नाम लिया, तो राजद का हंगामा

विधानसभा में बुधवार को उस दौरान राजद सदस्यों ने भारी हंगामा किया जब, उपमुख्यमंत्री सह वित्त मंत्री सुशील कुमार मोदी ने भोजनावकाश के बाद अधिकाई व्यय की रिपोर्ट पेश की. उपमुख्यमंत्री ने कहा कि पशुपालन विभाग द्वारा 657 करोड़ 98 लाख का अधिकाई व्यय किया गया है. 
न्यायालय में मामला लंबित होने के कारण इसे विधानसभा में स्वीकृति के लिए नहीं लाया गया है. उन्होंने बताया कि 959 भेड़, 5664 सूअर, 40504 मुर्गी, 1577 बकरी के लिए छह जिलों रांची, चाईबासा, दुमका, जमशेदपुर, गुमला और पटना में 10.5 करोड़ के चारे की आ‌वश्यकता थी. पशुपालन  विभाग द्वारा 10.5 करोड़ के चारे की जगह 253.33 करोड़ के फर्जी चारे की खरीद की गयी थी. 
उन्होंने यह भी कहा कि भैंस के सींग मेें तेल लगाने के लिए 15 लाख रुपये का 49 हजार 950 ग्राम सरसो का तेल होटवार दुग्ध आपूर्ति सह डेयरी फार्म के महाप्रबंधक डाॅ जेनुअल भेंगराज ने खरीदा. वित्त मंत्री द्वारा विधानसभा में पशुपालन विभाग के अधिकाई व्यय विवरणी पेश करने के दौरान राजद के सदस्य उत्तेजित हो गये और हंगामा करने लगे. 
वो वित्त मंत्री के बयानों का विरोध कर रहे थे. वित्त मंत्री ने 1991 से पशुपालन विभाग में विभाग के बजट से अधिक राशि निकासी का विवरण पेश किया, जिसमें भेड़, बकरी और सूअर के चारे  में बजट से अधिक राशि की निकासी की गयी. यह मामला अदालत में लंबित है. वित्त मंत्री ने सदन को बताया कि 1990-91 में पशुपालन विभाग के बजट प्रावधान 54.92 करोड़ था.  उसकी जगह विभाग ने 84.21 करोड़ यानी 29.29 करोड़ अधिक निकासी की .

MOLITICS SURVEY

क्या आरक्षण पर मोहन भागवत के बयान से चुनावों में बीजेपी को नुकसान होगा?

TOTAL RESPONSES : 16

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know