गोल्फ के साथ सरकार ने कोरियन कंपनियों को निवेश के लिए किया प्रेरित, सभी सहायता देने का आश्वासन
Latest News
bookmarkBOOKMARK

गोल्फ के साथ सरकार ने कोरियन कंपनियों को निवेश के लिए किया प्रेरित, सभी सहायता देने का आश्वासन

By Bhaskar calender  20-Jul-2019

गोल्फ के साथ सरकार ने कोरियन कंपनियों को निवेश के लिए किया प्रेरित, सभी सहायता देने का आश्वासन

प्रदेश में निवेश को आमंत्रित करने के लिए हरियाणा सरकार ने शुक्रवार को गोल्फ खेलते हुए कोरियन कारोबारियों पर निशाना साधा। गुड़गांव में दोनों के बीच ‘द इंडिया कोरिया गोल्फ मीट’ का आयोजन किया, जिसमें गोल्फ के खेल पर व्यापार और आर्थिक सहयोग पर चर्चा की गई। इस मौके पर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कोरियाई निवेशकों को राज्य सरकार से सभी सहायता उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया।
गोल्फ मीट के प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए सीएम ने कहा कि हरियाणा को कोरियाई कंपनियों से काफी मात्रा में निवेश की आशा है, इसलिए हरियाणा के लिए इस स्वस्थ संबंध को बनाए रखना महत्वपूर्ण हो जाता है। सीएम ने कोरियाई निवेशकों द्वारा हरियाणा में अपना विश्वास जगाने के लिए उनका आभार व्यक्त किया और आशा जताई कि वे भविष्य में भी निवेश के लिए हरियाणा को प्राथमिकता देंगे।
उन्होंने दावा किया कि हरियाणा में एक और औद्योगिक क्रांति लाने के लिए कई नए सुधार किए गए हैं, जिसके परिणामस्वरूप ‘ईज ऑफ डूइंग बिजनेस’ में हरियाणा देश में 14वें स्थान से उत्तर भारत में पहले और देश में तीसरे स्थान पर आ गया है। अब लालफीताशाही (रैड टेपिजम) को लाल कालीन (रेड कारपेट) से बदल दिया है और उद्योगों को हर संभव तरीके से सुविधा प्रदान की जा रही है। उद्योगों की स्थापना तथा विस्तार के लिए आवश्यक एनओसी तथा सहमति पत्र व अन्य प्रकार की स्वीकृतियां प्रदान करने के लिए हरियाणा में शुरू किए गए सिंगल विंडो सिस्टम को भारत में सर्वश्रेष्ठ प्रणाली के रूप में मान्यता दी गई है।
सीएम ने कहा कि हरियाणा में आईटी तथा आईटीईएस, कृषि और खाद्य प्रसंस्करण, स्वास्थ्य सेवा और चिकित्सा शिक्षा, कौशल विकास, इलेक्ट्रॉनिक्स हार्डवेयर विनिर्माण, कपड़ा और परिधान, रक्षा और एयरोस्पेस, मास रैपिड ट्रांसपोर्ट जैसे क्षेत्रों में निवेश की अपार संभावनाएं हैं। गोल्फ को यथार्थता का खेल माना जाता है और निवेश करते समय भी ध्यानपूर्वक यथार्थता के साथ निर्णय लेना होता है और अच्छे संतुलित निर्णय ही फर्म अथवा कंपनी की आवश्यकता होती है। उन्होंने दक्षिण कोरियाई निवेशकों को याद दिलाया कि भारत और दक्षिण कोरिया दोनों पारंपरिक रूप से सदियों से एक दूसरे के करीब रहे हैं।

MOLITICS SURVEY

क्या आरक्षण पर मोहन भागवत के बयान से चुनावों में बीजेपी को नुकसान होगा?

TOTAL RESPONSES : 34

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know