मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के ख़िलाफ़ कथित आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर युवक गिरफ़्तार
Latest News
bookmarkBOOKMARK

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के ख़िलाफ़ कथित आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर युवक गिरफ़्तार

By Wire calender  16-Jul-2019

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के ख़िलाफ़ कथित आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर युवक गिरफ़्तार

उत्तराखंड में एक युवक को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के खिलाफ सोशल मीडिया पर कथित तौर पर आपत्तिजनक पोस्ट करने के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया. इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, आरोपी को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (सीजेएम) के समक्ष पेश किया गया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया.
उत्तरकाशी जिले के डायरिका गांव के किसान राजपाल सिंह (34) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संबोधित कर एक पत्र 13 जुलाई को फेसबुक पर पोस्ट किया था. इस पत्र में उन्होंने कथित तौर पर मुख्यमंत्री रावत के खिलाफ आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल करते हुए कहा था कि मुख्यमंत्री योजनाओं के क्रियान्वयन में सक्षम नहीं हैं. उन्होंने इस संबंध में प्रधानमंत्री से आवश्यक कदम उठाने की मांग भी की थी.

उत्तरांचल टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, उत्तरकाशी के पुलिस अधीक्षक (एसपी) पंकज भट्ट ने कहा कि पेशे से किसान राजपाल सिंह रावत को रविवार को जिले के पुरोला इलाके से गिरफ्तार किया गया. इसके बाद उन्हें रविवार शाम मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है.
भट्ट ने कहा, ‘हमने रावत को टिहरी जेल भेज दिया है.’
उन्होंने बताया कि रावत को पुलिस द्वारा बार-बार चेतावनी दी गई थी कि वह सोशल मीडिया पर मुख्यमंत्री के खिलाफ कोई आपत्तिजनक या अश्लील बात पोस्ट नहीं करे. भट्ट ने कहा, ‘उन्होंने सभी चेतावनियों को नजरअंदाज किया और मुख्यमंत्री के खिलाफ आपत्तिजनक पोस्ट को जारी रखा. इसलिए हमने रविवार को उन्हें गिरफ्तार किया.’
पुलिस का कहना है कि भाजपा मंडल इकाई के अध्यक्ष पवन नौटियाल की शिकायत पर सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है. सिंह को रविवार को गिरफ्तार किया गया था. सिंह के खिलाफ आईपीसी की धारा 153 (दंगा भड़काने के इरादे से उकसाना) और 504 (शांति भंग करने के इरादे से जानबूझकर अपमान करना) के तहत केस दर्ज किया है.

MOLITICS SURVEY

महाराष्ट्र में अगर शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के गठबंधन की सरकार बनती है तो क्या उसका हाल भी कर्नाटक जैसा होगा ?

TOTAL RESPONSES : 28

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know