महागठबंधन में सीट शेयरिंग: जीती हुईं सीटों में फेरबदल नहीं, बाकी पर 16 को फैसला
Latest News
bookmarkBOOKMARK

महागठबंधन में सीट शेयरिंग: जीती हुईं सीटों में फेरबदल नहीं, बाकी पर 16 को फैसला

By India18 calender  10-Jul-2019

महागठबंधन में सीट शेयरिंग: जीती हुईं सीटों में फेरबदल नहीं, बाकी पर 16 को फैसला

झारखंड में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर महागठबंधन को स्वरुप देने के लिए नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने बुधवार को विपक्षी दलों की बैठक बुलायी. इस बैठक में कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम, जेवीएम के प्रदेश प्रवक्ता सरोज सिंह, मासस के अरुप चटर्जी और आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष अभय सिंह शामिल हुए. इस बैठक से जेवीएम अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ अजय कुमार निजी वजह से दूर रहे. लेकिन ज्यादातर वामदलों ने जानबूझकर दूरी बनायी.

करीब दो घंटे से ज्यादा चली इस बैठक में सीट शेयरिंग को लेकर चर्चा हुई. यह फैसला लिया गया कि महागठबंधन के दल विधानसभा चुनाव हेमंत सोरेन के नेतृत्व में लड़ेंगे. इस बात पर भी सहमति बनी कि 2014 की विनिंग सीटों में कोई छेड़छाड़ नहीं की जाएगी.

जेएमएम नेता हेमंत सोरेन ने कहा कि भाजपा और रघुवर सरकार को झारखंड से बाहर का रास्ता दिखाना है. इसके लिए महागठबंधन दलों को एकसाथ मिलकर विधानसभा चुनाव लड़ना होगा. वामदलों को भी साथ लाने की कवायद है. 16 जुलाई की बैठक में इस पर फैसला लेंगे. ईवीएम पर भी सबकी राय मांगी गई है.

कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने कहा कि हमसब विधानसभा चुनाव गठबंधन में लड़ेंगे. अभी 32 सीटों पर विपक्ष का कब्जा है. ये सीटें जीतने वाले दलों के खाते में ही जाएंगी. जेवीएम से बीजेपी में गये 6 विधायकों वाली सीट पर फैसला बाद में होगा.
81 सीटों वाली झारखंड विधानसभा में फिलहाल 32 सीटें विपक्ष के पास हैं. इसमें 19 जेएमएम, 09 कांग्रेस, 02 जेवीएम और एक- एक  पर माले व मासस के विधायक हैं.

MOLITICS SURVEY

मॉब लिंचिंग किस वजह से हो रही है ?

दाढ़ी
  5.66%
टोपी
  9.43%
राष्ट्रवाद
  84.91%

TOTAL RESPONSES : 53

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know