सीवरेज लाइनों के बाद चौमू में पेजयल वितरण लाइनों का कार्य: शांति धारीवाल
Latest News
bookmarkBOOKMARK

सीवरेज लाइनों के बाद चौमू में पेजयल वितरण लाइनों का कार्य: शांति धारीवाल

By Khaskhabar calender  10-Jul-2019

सीवरेज लाइनों के बाद चौमू में पेजयल वितरण लाइनों का कार्य: शांति धारीवाल

नगरीय विकास एवं आवासन मंत्री शांति धारीवाल ने कहा है कि चौमू नगर पालिका क्षेत्र में पेयजल समस्या के समाधान हेतु बनाई गई पुनर्गठित पेयजल योजना में 40 ट्यूबवैल खोदे जाने थे इनमें से 26 बना दिए गए हैं, लेकिन शेष 14 में से 6 जनविरोध के कारण और बाकी 8 क्षेत्र में भूजल के नीचे चले जाने के कारण रोक दिए गए हैं क्योंकि इन ट्यूब वैलों में पानी नहीं आ सकता था। 

धारीवाल मंगलवार को विधानसभा मेें प्रश्नकाल के दौरान विधायकों की ओर से इस सम्बन्ध में पूछे गए पूरक प्रश्नों का जवाब दे रहे थे। उन्होेंने बताया कि जेडीए द्वारा पुनर्गठित पेयजल योजना में कुल आठ पैकेज का काम हाथ में लिया गया था जिन पर करीब 36 करोड़ रूपए खर्च खर्च होने थे। इनमें सात पैकेज का काम 2017 में सम्पन्न हो गया जिसका संधारण जेडीए द्वारा किया जा रहा है। लेकिन चौमू के लिए निर्धारित आठवें पैकेज को उपरोक्त कारणों के अलावा इस कारण से पूरा नहीं किया जा सका क्योंकि यहां राइजिंग लाइन एवं हाईराइज टेंकों एवं नलकूपों का निर्माण होने पर भी वितरण लाइनें नहीं डाली गईं। इसका कारण यह था कि वितरण लाइनें आरयूडीआईपी द्वारा डाले जाने वाली सीवर लाइनों के कार्य के साथ ही डाली जानी थीं। अब जब तक सीवर लाइनें नहीं डाली जातीं वितरण लाइनों का कार्य प्रारम नहीं हो सकता। 

इससे पहले विधायक रामलाल के मूल प्रश्न के जवाब में धारीवाल ने कहा कि यह सही है कि जयपुर विकास प्राधिकरण द्वारा चौमू नगर पालिका क्षेत्र में पेयजल समस्या के समाधान हेतु पुनर्गठित पेयजल योजना बनाई गई। उन्होंने योजना हेतु स्वीकृत राशि का विवरण व निर्माण की प्रगति का विवरण सदन के पटल पर रखा। 

उन्होंने इस योजना के स्वीकृत कार्यों में से शेष रहे कार्यों का विवरण भी सदन के पटल पर रखा। उन्होंने बताया कि जयपुर विकास प्राधिकरण में दिनांक 05 जनवरी 2018 को लिये गये निर्णयानुसार योजना के शेष कार्य जन स्वास्थ्य अभियान्ति्रकी विभाग द्वारा किये जाने है। उन्होंने इस पत्र की प्रति भी सदन के पटल पर रखी।

MOLITICS SURVEY

मॉब लिंचिंग किस वजह से हो रही है ?

दाढ़ी
  5.66%
टोपी
  9.43%
राष्ट्रवाद
  84.91%

TOTAL RESPONSES : 53

Raise Your Voice
Raise Your Voice 

Suffering From Problem In Your Area ? Now Its Time To Raise Your Voice And Make Everyone Know